संचालित योजनाओं का लाभ कृषकों तक पहुंचे-डीएम
कमलाकर मिश्र की रिपोर्ट
देवरिया-कृषि विभाग की संचालित विभिन्न योजनाओं की गूगल मीट के माध्यम से समीक्षा के दौरान जिलाधिकारी आशुतोष निरंजन ने निर्देश दिया है कि कृषि विभाग से जुडे सभी अधिकारी एवं कर्मचारी अपनी योजनाओं को कृषकों तक पहुॅचाने के लिए पूरी तरह से जागरुक व तत्पर रहें। साथ ही योजनाओं का प्रचार-प्रसार भी कृषकों तक हो, यह सुनिश्चित किया जाए कि जिससे वे योजनाओं के प्रति जागरुक रहें। जिलाधिकारी श्री निरंजन समीक्षा के दौरान उप निदेशक कृषि डा ए के मिश्र को निर्देश दिया कि वे अपने कार्यालय में भी कृषकों के लिए एक सुखद वातावरण को विकसित करें। योजनाओं के पम्पलेट व पोस्टर को भी कार्यालय में चस्पा रखें, ताकि जो भी कृषक कार्यालय में आए, उससे वह जानकारी ले सके। पीएम किसान सम्मान निधि योजना की भी नियमित समीक्षा/अनुश्रवण कृषि विभाग एवं प्रशासनिक अधिकारियों को किए जाने को कहा। उन्होने महिलाओं को कृषि में अधिक से अधिक जोडे जाने व दलहन एवं तिलहन को बढावा देने के लिए ट्रेनिंग सेन्टरों के माध्यम से इसकी व्यापक जानकारी एवं बढावा दिया जाए। उन्होने उप निदेशक कृषि को यह भी निर्देश दिया कि जो भी कृषकों के हित व कृषि यंत्रो के अनुदान से जुडी योजनायें संचालित हैं, उसका मीडिया के माध्यम से भी प्रचारित कराएं। जिलाधिकारी श्री निंरजन ने यह भी कहा कि वर्तमान समय में खरीफ फसल के दृष्टिगत सभी कृषि निवेशों की उपलब्धता, सरकारी नलकूपो को चलाएमान व नहरों में पानी की उपलब्धता सुनिश्चित किए जाने के लिए तत्परतापूर्वक कार्य किए जाए। किसान सहायक आदि भी अपने दायित्वों के प्रति पूरी तरह से सजगता बरतें। समीक्षा के उद्यान, गन्ना, आत्मा, मत्स्य आदि विभागों के कार्य बिन्दुओं की भी समीक्षा कर जिलाधिकारी ने आवश्यक निर्देश दिए। उप कृषि निदेशक डा ए के मिश्र ने कृषि कार्य प्रगतियों की एजेन्डावार प्रस्तुतिकरण किया। इस बैठक में जिला कृषि अधिकारी मो0 मुजम्मिल, जिला गन्ना अधिकारी ए के शुक्ला, डीएचओ सीताराम यादव सहित अन्य संबंधित अधिकारी, कर्मचारी आदि जुडे रहे।