समय व गुणवत्ता के साथ किया जाए निर्माण कार्य-डीएम
कमलाकर मिश्र की रिपोर्ट
देवरिया-जिलाधिकारी आशुतोष निरंजन विकास भवन के गांधी सभागार में 25 लाख की लागत से अधिक की कार्य परियोजनाओ के समीक्षा के दौरान अधिकारियों को निर्देश दिया है कि वे निर्माण कार्यो को समयबद्धता व गुणवत्ता के साथ पूर्ण कराएं, जिन कार्य परियोजनाओं में 80 प्रतिशत से अधिक कार्य पूर्ण हो चुके हैं, उनके शेष कार्यो को इस माह में पूर्ण करते हुए हैण्डओवर की कार्यवाही सुनिश्चित कराएं। उन्होने कहा कि कार्यदायी संस्थाओं तथा संबंधित विभाग की संयुक्त जिम्मेदारी है कि वे निर्माण कार्यो को पूर्ण कराने में जो भी कठिनाईयां आ रही हो, उसे दूर कराए। उन्होने यह भी कहा कि जिन परियोजनाओं में धनराशि की अनुपलब्धता है, उसमें शासन स्तर पर मेरे स्तर से पत्र व्यवहार कर पहल करें तथा धन की उपलब्धता सुनिश्चित कराएं। जिलाधिकारी श्री निरंजन ग्राम पयासी के निकट गंडक नदी पर सेतु निर्माण कार्य में शिथिलता के लिए प्रोजेक्ट मैनेजर के विरुद्ध कार्यवाही हेतु चार्जशीट दिए जाने का निर्देश दिया। उन्होने कार्यदायी संस्थाओं को पूरी जानकारी के साथ बैठकों में प्रतिभाग किए जाने का भी निर्देश दिया। मेडिकल कालेज के निर्माण कार्यो को चेकलिस्ट के अनुसार पूर्ण कराए जाने तथा इसके लिए प्राचार्य एवं कार्यदायी संस्था उ0प्र0 राजकीय निर्माण निगम को समन्वय के साथ कराए जाने का निर्देश दिया। कहा कि जो भी कमियां या कार्यो में गैप हो उसे चेकलिस्ट के अनुसार पूर्ण कराया जाए। जिलाधिकारी ने सडक निर्माण, आईटीआई भवन, गौ आश्रय केन्द्र, सेतु निर्माण, राजकीय पालिटेक्निक निर्माण कार्यो सहित संचालित सभी 25 लाख से ऊपर कार्य परियोजनाओं, तटबंधो आदि के निर्माण कार्यो की गहन समीक्षा की एवं संबंधित विभागो एवं कार्यदायी संस्थाओं को आवश्यक निर्देश दिए। बैठक में मुख्य विकास अधिकारी शिव शरणप्पा जी एन द्वारा कार्य परियोजनाओं के प्रगतियों से अवगत कराया गया तथा अधिकारियों को जिलाधिकारी द्वारा दिए गए निर्देशों के अनुरुप कार्यो को कराए जाने की अपेक्षा की गयी। इस दौरान अपर जिलाधिकारी प्रशासन कुवर पंकज, सीआरओ अमृत लाल बिन्द, सीएमओ डा आलोक पाण्डेय, प्राचार्य मेडिकल कालेज ए एम वर्मा, डीएसटीओ मनोज श्रीवास्तव, मृत्युजन्य चतुर्वेदी सहित कार्यदायी संस्थाओं एवं जुडे अन्य विभागो के अधिकारी आदि उपस्थित रहे।