डीएम ने की बेसिक शिक्षा विभाग की समीक्षा
कमलाकर मिश्र की रिपोर्ट
देवरिया -जिलाधिकारी आशुतोष निंरजन ने बेसिक शिक्षा विभाग की गठित टास्क फोर्स की बैठक गूगल मीट द्वारा किए जाने के दौरान यह निर्देश दिया है कि मिशन कायाकल्प के तहत सभी कार्य बिन्दुओं से विद्यालयों को संतृप्त किए जाए, इसमें किसी भी स्तर पर कोई शिथिलता नही होनी चाहिए। उन्होंने कहा कि बेसिक शिक्षा विभाग की संचालित योजनाओं एवं कार्यक्रमों को जुड़े सभी अधिकारी कर्मचारी आपसी समन्वय के साथ बेहतर से बेहतर रूप दें और इसके लिए अपनी पूरी तन्मयता व सक्रियता दिखाएं। जिलाधिकारी श्री निरंजन समीक्षा के दौरान एक एक खंड शिक्षा अधिकारियो के कार्यों का जायजा लिया। इस दौरान उन्होंने निर्देश दिया कि मिशन प्रेरणा के तहत संचालित कायाकल्प योजना सहित अन्य शेष सभी कार्यों को अनिवार्य रूप से अवश्य ही पूर्ण करना सुनिश्चित करे। इसमें किसी भी स्तर पर कोताही व शिथिलता कदापि नहीं होनी चाहिए। जिलाधिकारी ने कायाकल्प के तहत स्कूलों में टाइल्स, रैंप निर्माण, इंटरलॉकिंग, विद्युतीकरण आदि कार्यों को कराए जाने पर बल दिया।उन्होंने खंड शिक्षा अधिकारीवार समीक्षा में कम प्रगति वाले बीईओ को सचेत किया और कहा कि सभी कार्य बिंदुओं की पूर्ति अनिवार्य रुप से समयबद्धता व गुणवत्ता के साथ पूर्ण होनी चाहिए। इसके लिए अपने संबंधित खंड विकास अधिकारी से समन्वय रखते हुए, उसे अवश्य ही पूर्ण कराएं। उन्होंने ऐसे विद्यालयों, जिनमें बाउंड्री वाल की आवश्यकता हो उसका निर्माण मनरेगा से कराए जाने का को कहा। साथ ही उन्होंने ई पाठशाला को और प्रभावी बनाए जाने पर बल दिया और जो भी ई पाठशाला से जुड़े इवेंट प्राप्त हो उसे बच्चों तक पहुंचाया जाए। जिलाधिकारी ने मिशन कायाकल्प योजना में कम प्रगति वाले खण्ड शिक्षा अधिकारियों पर कड़ी नाराजगी व्यक्त की तथा बीएसए को निर्देश दिया कि वे क्षेत्रो में खंड शिक्षा अधिकारियों को भेजें और वे स्कूलों में अध्यापकों की उपस्थिति का जायजा लें व अपनी रिपोर्ट तीन दिन के अन्दर प्रस्तुत करें, ऐसा नही करने वाले खंड शिक्षा अधिकारियों को चार्जशीट देने की कार्यवाही सुनिश्चित कराएं। जिलाधिकारी ने कालाकल्प योजना के तहत रुद्रपुर, बरहज व भाटपाररानी में कार्य प्रगति अन्सतोषजनक पाए जाने पर संबंधित खंड शिक्षाधिकारियों व खंड विकास अधिकारियों को कार्य प्रगति में सुधार लाए जाने का निर्देश दिया और कहा कि कायाकल्प के जिन कार्य बिन्दुओं की प्रगति कम है, उसमें विशेष रुप से ध्यान दें और कार्यो को पूर्ण कराएं। उन्होने स्कूलों की विद्युतीकरण कार्य की समीक्षा में सीडीओ से कहा कि वे बीएसए, डीपीआरओ, अधिशासी अभियंता विद्युत की संयुक्त बैठक करा कर विद्युतीकरण कार्य की समीक्षा कर प्रगति की अद्यतन विवरण रखें, जहां कमी हो, उसमें तेजी से कार्य कराते हुए विद्युतीकरण कार्य को पूर्ण कराएं। इसी तरह नगरीय परिषदीय विद्यालयों के भी कार्यो को खंड शिक्षा अधिकारी व अधिशासी अधिकारियों की आपसी समन्वय के साथ उसे कराए जाने पर जोर दिया। आयोजित इस बैठक में मुख्य विकास अधिकारी शिव शरणप्पा जी एन, पीडी संजय पाण्डेय, डीडीओ श्रवण कुमार राय, बीएसए सन्तोष कुमार राय, खंड शिक्षा अधिकारी गण एवं संबंधित अधिकारी, कर्मचारी गण आदि जुडे रहे।