राजकीय चिकित्सा महाविद्यालय, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ द्वारा निरीक्षण किया गया
दुर्गेश मूर्तिकार
सिद्धार्थनगर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नवनिर्मित स्वशासी राजकीय चिकित्सा महाविद्यालय, सिद्धार्थनगर के उद्घाटन कार्यक्रम के दृष्टिगत मुख्यमंत्री द्वारा हेलीकाप्टर से पूर्वान्ह 10ः55 बजे पुलिस लाइन में पहुॅचे। इसके पश्चात नवनिर्मित स्वशासी राजकीय चिकित्सा महाविद्यालय, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ द्वारा निरीक्षण किया गया। निरीक्षण के दौरान स्वास्थ्य मंत्री जय प्रताप सिंह, बेसिक शिक्षा राज्यमंत्री डा0 सतीश चन्द्र द्विवेदी, सांसद जगदम्बिका पाल, जिला पंचायत अध्यक्ष शीतल सिंह विधायक राघवेन्द्र प्रताप सिंह, श्यामधनी राही, अमर सिंह चैधरी, जिलाध्यक्ष गोविन्द माध्यव, मंडलायुक्त अनिल कुमार सागर, डीएम दीपक मीणा तथा एसपी डा0 यशवीर सिंह साथ में उपस्थित थे। निरीक्षण के दौरान नवनिर्मित मेडिकल कालेज के माॅडल को देखा गया। मेडिकल में बने लैब, मीटिंग हाल, तथा पूरे परिसर का निरीक्षण किया गया। इसके पश्चात सीएम द्वारा समीक्षा बैठक ली गयी। बैठक के दौरान प्राचार्य मेडिकल कालेज डा0 सलिल श्रीवास्तव से नवनिर्मित मेडिकल कालेज में चिकित्सा से संबधित सभी आवश्यक सुविधाओ के संबध में विस्तार पूर्वक जानकारी ली गयी। मुख्यमंत्री ने प्राचार्य को निर्देश देते हुए कहा कि प्रधानमंत्री भारत सरकार द्वारा मेडिकल कालेज का उद्घाटन कराया जायेगा। इस संबध में तैयारी चल रही है। 25 जुलाई 2021 तक मेडिल काउन्सिल आॅफ इंडिया की टीम द्वारा निरीक्षण किया जाना था।मेरे द्वारा देखने में पाया गया कि अभी बहुत सी आवश्यक सुविधाएं अपूर्ण है, जिसे कार्य में तेजी लाकर 02 सप्ताह के अन्दर सभी आवश्यक सुविधाएं पूर्ण कराना सुनिश्चित करे। मेडिकल कालेज में लैब एवं पुस्तकालय की बेहतर सुविधा होनी चाहिए। मरीजो के रजिस्ट्रेशन से लेकर अन्य आवश्यक सुविधाओ को डिजीटलीकरण प्रक्रिया के अन्तर्गत कार्यवाही पूर्ण कराकर सुनिश्चित कर ली जाए। सीएम ने प्राचार्य मेडिकल कालेज को निर्देश दिया कि शासन स्तर से धन आवटंन पूर्ण में ही कर दिया गया था परन्तु अभी तक उस कार्य में प्रगति नही दिखायी दी सभी सुविधाओ को पूर्ण कराने में जो भी प्रस्ताव शासन स्तर पर भेजना है उसे 2-3 दिनो के अन्दर तैयार कराकर भेज दे जिससे समय से कार्यवाही की जा सके। इसके साथ ही जिला चिकित्सालय में कार्यरत डाॅक्टरो को जोड़ते हुए प्रस्ताव भेजने का निर्देश दिया गया। और सीएम ने कहा कि जनपद सिद्धार्थनगर आकांक्षी जनपद की श्रेणी में है। सरकार द्वारा स्थानीय जनप्रतिनिधियों के सहयोग से सिद्धार्थनगर में स्वास्थ्य, शिक्षा, कृषि एवं मूलभूत सुविधाओ के क्षेत्र प्रगति लाकर इस जनपद को सामान्य जनपदो की श्रेणी में लाने का प्रयास किया जा रहा है। प्रोजेक्ट मैनेजर राजकीय निर्माण निगम से नवनिर्मित मेडिकल कालेज भवन के बनाये जा रहे ब्वायज हास्टल, गल्र्स हास्टल, नर्सेस हास्टल के निर्माण के संबध में गहन समीक्षा की गयी। प्रोजेक्ट मैनेजर राजकीय निर्माण निगम ने बताया कि 120 की क्षमता का ब्वायज हास्टल, 120 गल्र्स हास्टल, 40 नर्सेस हास्टल बन गया है फिनीसिंग का कार्य चल रहा है जो एक सप्ताह में पूर्ण करा लिया जायेगा। मेडिकल की पढ़ाई के लिए समय सीमा कें अन्दर कार्य पूर्ण कराने का निर्देश दिया गया। इस संबध में सीएम द्वारा डीएम को निर्देश दिया गया कि मेडिकल कालेज के निर्माण कार्य हेतु एक कमेटी गठिन कर दी जाये। इस कमेटी द्वारा प्रतिदिन कार्यो की प्रगति को देखे और अपनी रिपोर्ट भी प्रस्तुत करेंगे। मुख्यमंत्री द्वारा प्रोजेक्ट मैनेजर राजकीय निर्माण निगम को निर्देश देते हुए कहा कि कार्य की प्रगति बढ़ाने हेतु अपनी क्षमता बढ़ाएं। प्रोजेक्ट मैनेजर राजकीय निर्माण निगम ने मुख्यमंत्री को जानकारी देते हुए बताया कि लिफ्ट की टेस्टिंग चल रही है। बिजली की आपूर्ति के लिए जनरेटर की व्यवस्था है। पानी की स्थिति ठीक है, पानी की सप्लाई के लिए ओवर हेड टैंैंक बन रहा है डेढ़ माह में निर्माण पूर्ण हो जायेगा। कार्य में प्रगति लाकर पूर्ण कराने का निर्देश दिया। पीएम के आगमन पर सभी विन्दुओ पर तैयारी होनी चाहिए। 700 बेड का हाॅस्पिटल चलेगा। प्रतिदिन 1000-1500 ओ0पी0डी0 होगी। भोजन हेतु सस्ती कैन्टीन होनी चाहिए। मेडकल कालेज के उद्घाटन के बाद 500-600 बेड का हाॅस्पिटल चालू होगा। जनप्रतिनिधियों द्वारा योगी आदित्यनाथ से बन्धे के संबध में कहा गया। मुख्यमंत्री को डीएम दीपक मीणा ने कोविड-19 के संबध में बताया कि जनपद में कुल 599512 टेस्ट किये गये है विगत सप्ताह में कुल 23224 टेस्ट किये गये है। जनपद में 10 एक्टिव केस है। जनपद में वर्तमान पाॅजिविटी रेट 0.01 प्रतिशत है। जनपद में 06 आॅक्सीजन प्लान्ट क्रियाशील है तथा 04 नये प्लान्ट स्थापित किये जा रहे है। जनपद में 613420 डोज दिये जा चुके है। जनपद में 24 वेन्टीलेटर, 662 आॅक्सीजन कन्सन्ट्रेटर एवं 12 एचएफएनसी क्रियाशील है। जनपद में तृतीय लहर की तैयारी हेतु 90 पीआईसीयू/एचडी बेड तथा 130 आॅक्सीजन सपोर्टेड बेड तैयार किये गये है। संचारी रोग नियंत्रण एवं दस्तक अभियान के दौरान 350164 घर जाकर जे0ई0/ए0ई0एस0 रोग से बचाव हेतु जागरूक किया गया। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कप्तान डा0 यशवीर सिंह को निर्देश दिया कि जनपद सिद्धार्थनगर नेपाल सीमा पर स्थित है इसके देखते हुए विशेष सतर्कता बरतने की आवश्यकता है।