गूगल मीट के माध्यम से डीएम ने की चकबंदी कार्यो की समीक्षा
कमलाकर मिश्न की रिपोर्ट
देवरिया-जिलाधिकारी आशुतोष निरंजन ने मंगलवार को चकबन्दी गूगल मीट के माध्यम से कार्यो की प्रगति समीक्षा के दौरान जिन गांवो में चकबन्दी की कार्यवाही प्रचलित है, उनमें वरासत के मामले लम्बित हो, तो उसकी कार्यवाही पूर्ण कर उसकी सूचना उपलब्ध कराएं जाने का निर्देश दिया। उन्होने चकबन्दी विभाग से जुडे अधिकारियों को निर्देश दिया है कि चकबन्दी की जो भी कार्यवाही प्रचलित है, उसे पूरी तत्परता के साथ सुनिश्चित करायें। उन्होने कहा कि जिनमें धारा 52 का प्रकाशन हो गया हो, उसके रिकार्ड अभिलेखागार में जमा किए जाने की कार्यवाही भी सुनिश्चित कर ली जाए। जिलाधिकारी ने एस0ओ0सी0 से चकबन्दी आयुक्त एवं शासन द्वारा दिये गये नवीन निर्देशों की जानकारी के संबंध में पूछताछ की गयी। बताया गया कि चकबन्दी आयुक्त द्वारा 30 गांवों का चकबन्दी धारा-23 के, 4 गांव के धारा-27 के तथा 4 गांव के धारा-52 के लक्ष्य प्राप्त हुए है, जिसके सापेक्ष धारा-27 एवं धारा-52 के लिये 6 गांवो को चिन्हित कर मौके पर परिवर्तन की कार्यवाही प्रस्तावित है। जिलाधिकारी ने निर्देश दिया कि लक्ष्यों की पूर्ति शतप्रतिशत की जाए। बैठक में अपर जिलाधिकारी प्रशासन कुवर पंकज, मुख्य राजस्व अधिकारी अमृत लाल बिन्द, एस0ओ0सी0 कैलाश भारती, चकबन्दी अधिकारी एवं सहायक चकबन्दी अधिकारी गण सहित अन्य संबंधित जन जुड़े रहे।