अंतर्नाद पत्रिका विमोचन संग बही काव्य फुहार
*रिपोर्ट - करन पाण्डेय बनारस*
*केवीके कल्लीपुर वाराणसी में जुटे प्रदेश भर के साहित्यकार*
वाराणसी- बनारस के देवाधिदेव, महादेव की नगरी काशी में स्थित केवीके कल्लीपुर में सावन के पहले दिन अंतर्नाद पत्रिका के भव्य लोकार्पण संग काव्य फुहार झरती रही। प्रदेश भर से जुटे साहित्यकारों के संगम बीच केवीके गुलजार रहा। विशुद्ध साहित्य को समर्पित अंतर्नाद पत्रिका की निरंतरता के साथ उसकी विकास यात्रा पर विस्तृत चर्चा की गई। पंडित हरिराम द्विवेदी की अध्यक्षता में आतिथ्य द्वय डॉ एस दुबे व रेनू द्विवेदी व पत्रिका टीम द्वारा दीप प्रज्ज्वलन के बाद वैदिक मंगलाचरण से कार्यक्रम का आरंभ हुआ। संरक्षक डॉ एनके सिंह द्वारा अतिथि का स्वागत व माल्यार्पण किया गया। पत्रिका पर अतिथियों व संरक्षक संतोष सिंह सहित प्रधान संपादक पुरुषार्थ सिंह तथा संपादक डॉ रचना शर्मा ने विस्तार से चर्चा किया। काव्य फुहार के द्वितीय सत्र में उप संपादक, युवा रचनाकार रुद्र प्रताप सिंह, देव प्रताप सिंह, मोहित लंबा, अनुराधा सिंह, मंजरी तिवारी, झरना मुखर्जी, श्रुति गुप्ता, नवल गुप्ता, दीपक शर्मा, प्रमोद पांडेय, आलोक त्रिपाठी, अनिल कुमार तिवारी, आत्माराम दुबे, सौमेन्द्र वर्धन मालवीय, सुनील कुमार सेठ, संगीत तिवारी, प्राकृतिक चिकित्सक डॉ रंजना सिंह आदि के उत्कृष्ट अभिव्यक्ति से सावनी काव्य फुहार को चरम से कार्यक्रम पहुँचाया। अपने लालित्यपूर्ण भावविभोर करने वाले कुशल संचालन से आचार्य पुरंदर पौराणिक ने हर क्षण को जीवंत बनाये रखा। कार्यक्रम के अंत मे सभी को डा. एनके सिंह ने धन्यवाद ज्ञापन किया।