गंधर्व म्युज़िक एकेडमी के संयुक्त तत्वावधान में "कजरी महोत्सव -2021" का आयोजन किया गया
कृपाशंकर यादव
रक्षक परिवार एवं गंधर्व म्युज़िक एकेडमी के संयुक्त तत्वावधान में "कजरी महोत्सव -2021" का आयोजन किया गया, जिसमें "महिला कजरी गायन एवं मेहंदी प्रतियोगिता" नगर के गोलाघाट स्थित शिव मंदिर सभागार में संपन्न हुई। कजरी प्रतियोगिता में शिवानी पांडेय तथा स्वाति ओझा संयुक्त रूप से प्रथम, श्वेता भारती द्वितीय और अंतिमा पांडेय तृतीय स्थान रहीं। मेहंदी प्रतियोगिता में विकाश प्रथम, विद्या कन्नौजिया द्वितीय और निशि राय को तृतीय स्थान प्राप्त हुआ, सभी विजेता प्रतिभागियों को संस्था अध्यक्ष नागेंद्र नाथ पांडेय ने "नारी प्रतिभा सम्मान" से सम्मानित किया, संयोजक विद्यानिवास पांडेय ने बताया की आधुनिक परिवेश में विलुप्त हो रही हमारी लोक कला/संस्कृति को पुनर्जागृत करने हेतु संस्था द्वारा समय समय पर ऐसे आयोजन किये जाते हैं, प्रतियोगिता के निर्णायक के रूप में राम अलम सिंह मधुर और शिरीन नसीर रहें, राम अलम सिंह ने अंत में नारी विरह के भाव को "काहें किरिया धरावेला तूं आन के तरह, तोहके पुतरि में राखिलें परान के तरह" गीत के माध्यम से व्यक्त किया! शिवानी पांडेय ने -की अरे रामा रिमझिम पड़े रसबुनिया, भिजेले सारी दुनिया ए हरी, स्वाति ओझा ने - बरसेला मेघ जलधार हो की सावन में फुहार पड़े बलमु, श्वेता भारती ने कइसे खेले जइबु सावन में कजरिया, अंतिमा पांडेय ने - झिरी झिरी बहेला पवनवा, अरे सावनवा ना... के साथ सभी प्रतिभागियों ने बनारसी, मिर्जापुरी और जौनपुरी कजरी सुनाकर लोगों को लोक रस में सराबोर कर दिया! आयोजन में पं. लव त्रिवेदी, अरुण तिवारी, एड. रविशंकर, एड. अनिल, संतोष, सुनील, डा. आनंद अग्रवाल, संजीत, विजय, शिवम, संदीप, आबिद, मोहित, अभयनंदन, दीनानाथ, काव्या, शाम्भवी आदि लोग उपस्थित रहें!