जनपद के नव नियुक्त 40 शिक्षकों दिया गया नियुक्ति पत्र
कमलाकर मिश्र की रिपोर्ट
देवरिया- मिशन रोजगार के अंतर्गत राजकीय माध्यमिक विद्यालयों में उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग से चयनित 40 प्रवक्ता एवं सहायक अध्यापकों (एलटी ग्रेड) को नियुक्ति पत्र प्रदान किया गया। इसके पूर्व माननीय मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने लखनऊ के लोक भवन में 200 प्रवक्ता एवं सहायक अध्यापकों को नियुक्ति पत्र प्रदान किया, जिसका सजीव प्रसारण जनपद स्तर पर आयोजित कार्यक्रम में भी किया गया। पूरे प्रदेश में 2846 नव चयनित प्रवक्ता एवं सहायक अध्यापकों का नियुक्ति पत्र वितरित किया गया। जनपद के नवचयनित दो प्रवक्ता एवं 38 सहायक अध्यापकों को विकास भवन के गांधी सभागार में पशुधन राज्यमंत्री जय प्रकाश निषाद, सदर विधायक डा सत्य प्रकाश मणि त्रिपाठी, सलेमपुर विधायक काली प्रसाद, रामपुर कारखाना विधायक प्रतिनिधि संजीव शुक्ला एवं जिलाधिकारी आशुतोष निरंजन द्वारा नियुक्ति पत्र प्रदान किया गया। इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने कहा कि निष्पक्ष एवं पारदर्शी चयन प्रक्रिया अपनाकर योग्य लोगों को राजकीय माध्यमिक विद्यालयों में नियुक्ति प्रदान की गई है। उन्होंने विश्वास व्यक्त किया कि नव चयनित प्रवक्ता एवं सहायक अध्यापक अपनी योग्यता एवं क्षमता के अनुसार नई पीढ़ी को शिक्षा प्रदान करेंगे। उन्होंने सभी नवनियुक्त प्रवक्ताओं एवं सहायक अध्यापकों को शुभकामनाएं व्यक्त किया। मुख्यमंत्री ने कहा कि राजकीय माध्यमिक विद्यालयों में यह तीसरी बार नियुक्ति पत्र वितरित किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि निष्पक्ष एवं पारदर्शी प्रक्रिया अपनाकर योग्य लोगों को सेवा का अवसर प्रदान किया जा रहा है। नवनियुक्त सभी शिक्षकों का यह दायित्व है कि वे अपनी क्षमता का उपयोग छात्र-छात्राओं को शिक्षित करने में लगाएं। यदि वे ऐसा करते हैं तो प्रत्येक छात्र उनको आजीवन याद रखेगा। उन्होंने कहा कि आकांक्षात्मक जिलों में जिन अध्यापकों की तैनाती हो रही है उनका दायित्व और जिम्मेदारी काफी बढ़ जाती है। इस अवसर पर उप मुख्यमंत्री दिनेश शर्मा ने कहा कि अध्यापक समाज का भाग्य विधाता होता है। वह सौभाग्यशाली होता है, जो शिक्षक बनकर समाज को शिक्षित करता है। उसके अन्दर अनवरत विद्यार्थी का गुण बना रहना चाहिए। अध्यापक शिष्य के लिए सदैव आदर्श होता है। उन्होने नवनियुक्त शिक्षको को मंगल शुभकामना देते हुए बेहतर परिणाम देने की अपील की। वहॉ उपस्थित सभी के प्रति धन्यवाद ज्ञापित किया। पशुधन राज्यमंत्री श्री निषाद ने कहा कि पारदर्शी तरीके से सभी का चयन हुआ है। यह आप सब के लिए अच्छा अवसर है एवं सभी के लिए खुशी की बात है। प्रतिभाशाली अभ्यर्थियों के चयन होने से विद्यार्थियों में भी इसका लाभ मिलेगा। उन्होने सभी को शुभकामना देते हुए कहा कि वे जिस शिक्षण संस्थान में जहां रहे वहां वे अपने दायित्वों को पूरी निष्ठा के साथ निभाएं और समाज व राष्ट्र को आदर्श नागरिक देने में अपनी भागीदारी निभाएं। सदर विधायक डा सत्य प्रकाश मणि त्रिपाठी ने कहा कि आप सभी मेघावी व प्रतिभाशाली हैं। पारदर्शी तरीके से चयन हुआ है। जिस जगह तैनाती हो, वहां विद्यार्थियों के प्रतिभा को निखारने में अपना योगदान दें। उन्होने यह भी कहा कि शिक्षक होना गर्व की बात होती है। उन्होने कहा कि समाज में आप सभी का सम्मानजनक स्थान होता है। यह बहुत बडी जिम्मेदारी है, इस पर खरा उतरे, इसके लिए उन्होने सभी नव नियुक्तो को शुभकामना और बधाई दी। सलमेपुर विधायक काली प्रसाद ने चयनित अध्यापकों में यह चयन खुशी देने का कार्य किया है। उन्होने सभी से विद्यार्थियों में शिक्षा के साथ-साथ संस्कार भी विकसित किए जाने की अपेक्षा सहित शुभकामना दी। रामपुर कारखाना विधायक प्रतिनिधि श्री शुक्ला ने कहा कि यह चयन नए शिल्पी व निर्माणकर्ता के रुप में जिम्मेदारियां मिली हैं, जीवन में उसे उतारें और राष्ट्र निर्माण में अपना योगदान दें। जिलाधिकारी श्री निरंजन ने जनपद के गौरव के रुप में चयनित अध्यापकों को शुभकामनाएं देते हुए कहा कि जनपद के चयनित अध्यापको ने समाज, परिवार, जनपद का नाम रोशन किया है तथा स्वयं के बेहतर भविष्य भी सृजित किए है, इसके लिए उन्होने सभी को बधाई दी है। उन्होने कहा कि अध्यापको का सेवाकाल चुनौतीपूर्ण व जिम्मेदारियों से भरा होता है। विद्यार्थी के जीवन में सकारात्मक परिवर्तन, समाज को नई दिशा देने का कार्य करते है। आवश्यक है कि विद्यार्थियों के जीवन में सकारात्मक दृष्टिकोण विकसत करने की। विद्यार्थी के साथ-साथ अभिभावकों के सोच में भी परिवर्तन लाने का कार्य करेगें। शिक्षा को केवल नौकरी पाने का आयाम नही माना जाना चाहिए। अभिभावकों के साथ इसके लिए संवाद भी रखें व नैसर्गिक प्रतिभा अनुरुप उसे प्रेरित किया जाए। समाज में सभी क्षेत्रों में अच्छे विचारकों, कलाकारों, लेखकों आदि की आवश्यकता है। यह सभी मिल कर सात रंगो का इन्द्रधनुष तैयार करते है। इस इन्द्रधनुष की भावना को विकसित करने पर आधारित शिक्षा दें। साथ ही बच्चों में थोडी सी असफलता को लेकर अवसाद न विकसित हो, इस पर भी उन्हे कार्य करना चाहिए। जनपद के कुल 15 सहायक अध्यापक जिसमें 6 पुरुष व 9 महिला चयनित हुई है तथा इस जनपद की बाहरी जिले में दो प्रवक्ता व 23 सहायक अध्यापक विभिन्न जनपदों में चयनित हुए है, इस प्रकार इस जनपद के कुल 40 प्रवक्ता व सहायक अध्यापक नवनियुक्त हुए है, जिन्हे विद्यालय भी आवंटित कर पद स्थापना व नियुक्ति पत्र आज दिया गया, जिसमें नियुक्ति पत्र पाने वालो में संध्या यादव, दिव्या पाण्डेय, कनकलता, अनुपमा मद्देशिया, प्रियंका सिंह, गौरी मिश्रा, अर्चना त्रिपाठी, पन्नेलाल गुप्ता, विकास चन्द्र तिवारी, धनजंय कुशवाहा, ममता सिंह, मुनीर अहमद, बिरबल यादव जिनकी तैनाती जनपद में हुई है। नियुक्ति प्राप्त करने वालो में सम्मिलित रहे। इसी प्रकार विभिन्न अन्य जनपदों में इस जनपद के नियुक्त प्रवक्ता एवं सहायक अध्यापकों, जिन्हे नियुक्ति पत्र प्रदान किया गया, उनमें प्रमुख रुप से चयनित प्रवक्ता संजीव कुमार गुप्ता, विशाल कुमार मिश्रा एवं सहायक अध्यापकों में भूपेन्द्र शर्मा, नागेन्द्र कुमार तिवारी, चंदन कुमार तिवारी, अमित कुमार उपाध्याय, ओंकार सिंह, शेषनाथ यादव, पंकज कुमार यादव, रुद्र प्रताप सिंह, अमरनाथ कश्यप, श्वेता सिंह, रिंकी गुप्ता, बृजबाला, निधी मिश्रा, स्वेता यादव, आरती कुमारी, पवन कुमार, शैलेन्द्र कुमार सिंह, रजनी देवी एवं रंजना सिंह आदि प्रमुख रुप से शामिल रहे। नियुक्ति पाने पर नव चयनितों में खुशी देखी गयी। आयोजित इस कार्यक्रम का संचालन एडीआईओएस रामहुजूर द्वारा किया गया। इस अवसर पर प्रधानाचार्य जीआईसी पीके शर्मा, उप प्रधानाचार्य महेन्द्र प्रसाद, जिला पंचायत सदस्य अशोक सिंह, अम्बिकेश पाण्डेय सहित चयनित अध्यापक गण व अन्य संबंधित अधिकारी, कर्मचारी गण उपस्थित रहे।