₹400000 में हुआ था साल्वर गैंग से सौदा
अमित सिंह की रिपोर्ट
*अयोध्या* =================== अयोध्या टीजीटी परीक्षा में पकड़े गए मुन्नाभाई ने पुलिस के सामने कई राज खोले हैं|परीक्षार्थी गिरीश कुमार और लव कुमार से ₹400000 में सौदा तय हुआ था, जिसके बाद ब्लॉक मार के स्थान पर कमलेश और गिरीश कुमार के स्थान पर सुनील यादव टीजीटी परीक्षा देने एमपीएलएल आदर्श इंटर कॉलेज पहुंचे थे| सोमवार को एसएसपी शैलेश पांडे ने पत्रकार वार्ता में सॉल्वर गैंग के बारे में जानकारी दी|उन्होंने बताया की परीक्षा देते मुन्ना भाई कमलेश से पूछताछ के बाद गिरोह के पांच और सदस्यों को गिरफ्तार किया गया है|जिसमें एक युवति भी शामिल है|गिरफ्तार किए गए लोगों में रुदौली के ऐहार निवासी कमलेश कुमार, पूरे गुलजार निवासी पुष्पा देवी, जौनपुर के बरसठी बरी गांव निवासी कमल कुमार, भदोही जिले के रनर पुर सुरयावा निवासी सुनील यादव, प्रयाग राज जिले के भेलखा सरायमरेज निवासी भारत भूषण गौतम शामिल हैं| एसपी ने बताया कि रविवार को शहर में धारा रोड स्थित एम पी एल एल आदर्श इंटर कॉलेज मे पुलिस ने लव कुश के स्थान पर कमलेश को परीक्षा देते हुए पकड़ा था|कारवाई की भनक लगते उसका दूसरा साथी सुनील यादव परीक्षा छोड़ बाहर भाग निकला|सुनील गिरीश के स्थान पर परीक्षा देने पहुंचा था|कमल कुमार गिरोह का सरगना है|जो रकम लेकर साल्वर उपलब्ध कराता था | अभियुक्तों से पूछताछ के आधार पर कोतवाल सुरेश पांडे ने चौक स्थित मारवाड़ी धर्मशाला से अभियुक्तों की गिरफ्तारी की|इनके पास से फर्जी आधार कार्ड विभिन्न नामों के प्रवेश पत्र, मतदाता पहचान पत्र, 6 मोबाइल, कार एवं बाइक बरामद हुई है|यह गिरोह प्रवेश पत्रों को स्कैन कर उसे एडिट कर परीक्षा के स्थान पर मुन्ना भाई बैठाता था |इस गिरोह के अन्य सदस्यों का पता लगाया जा रहा है|पकड़े गए सभी अभियुक्त एलएलबी कर चुके हैं|मुन्ना भाई से सांठगांठ करने वाले परीक्षार्थियों की तलाश भी की जा रही है