हर हाथ को काम – हर जेब में दाम का सपना होगा पूरा-संजय राय “शेरपुरिया
कृपाशंकर यादव
जनपद में रोजगार के साधन उपलब्ध कराने के लिए ऑटोमोबाइल सेक्टर में स्थापित ओमेगा सिटी मोबिलिटी और यूथ रूरल इंटरपेन्योर फाउंडेशन के संयुक्त प्रयास से 100 करोड़ की लागत से इलेक्ट्रिक व्हीकल उत्पादन केंद्र गाजीपुर में स्थापित होगा, इसको लेकर ओमेगा सिटी के मैनेजिंग डायरेक्टर डॉ० देव मुखर्जी और यूथ रूरल एंटरपेन्योर फाउंडेशन के सीईओ सुनील कुमार सिंह के बीच में शनिवार 31 जुलाई को करार हुआ है। पूर्वांचल के गाज़ीपुर में 100 करोड़ की लागत से इलेक्ट्रिक वेहक़ील उत्पादन इकाई का निवेश होने से जिले में इस समय खुशी का माहौल है। यह करार ओमेगा सेकी के उदय नारंग और यूथ रूरल एंटरपेन्योर के संयोजक संजय राय शेरपुरिया के मार्गदर्शन में चल रहे फाउंडेशन के बीच हुआ है। आपको बताते चलें कि जनपद में हर हाथ को काम और हर जेब में दाम के नारे को सच करने की दिशा में गुजरात से गृह जनपद आए उद्यमी संजय राय शेरपुरिया ने एक होटल में समारोह के माध्यम से जनपद में इलेक्ट्रिक आटो मोबाइल यूनिट के शुभारंभ किए जाने की घोषणा की। उन्होंने मंच से बताया कि गाज़ीपुर के 25 हजार युवाओं को हर साल वे काम देने की योजना बनाए हैं जिसके तहत जल्द ही ओमेगा सेकी के संयुक्त प्रयास से कई मॉडलों में इलेक्ट्रिक थ्री व्हीलर्स बनाए जाएंगे, जिनकी खासियत होगी कि वे मात्र 30 मिनट से 3 घंटे के बीच चार्ज होकर सड़को पर दौड़ने लगेंगे। जिसकी लागत मात्र 50 पैसे से 1 रुपए प्रति किलोमीटर के बीच खर्च आएगा। इससे जनपद के 5 हजार लोगों को रोजगार का अवसर मिलेगा। इस कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में गाज़ीपुर की ज़मानियाँ से विधायक सुनीता सिंह, जिलाधिकारी एमपी सिंह, एसपी डॉ ओमप्रकाश सिंह अन्य अतिथियों के साथ मंच पर उपस्थित रहे। अतिथियों ने संजय राय शेरपुरिया के इस प्रयास की सराहना की और, कहा कि प्रदेश सरकार की नीतियों और भयमुक्त माहौल के चलते आज पिछड़े पूर्वांचल के गाज़ीपुर में भी निवेशक आ रहे हैं, जिससे स्थानीय लोगो को रोजगार के अवसर मिलेंगे जो प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और सूबे के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के आत्मनिर्भर भारत के सपनो को साकार करने का प्रयास है।