बाढ़ के चलते डूबने लगा शमशान घाट, शव दाह में परेशानी*
कृपाशंकर यादव
गाजीपुर । गंगा उफान पर हैं, और खतरे के निशान से लगातार ऊपर बह रही हैं। जिसके चलते तटवर्तीयो का बुरा हाल है, गाजीपुर का बैकुंठ धाम भी इसकी जद में आ चुका है, लोगो को शवदाह में काफी मुश्किलों का सामना करना पड़ रहा है। सोमवार को उफनती गंगा में बाढ़ से तबाही का मंजर कायम है, तो वहीं हजारों एकड़ खेतों में फसल बाढ़ के पानी में डूब कर नष्ट हो रही है। जिसके चलते गंगा मटमैली हो कर बह रही हैं। पानी के बढ़ाव से गंगा तट पर निर्माणाधीन शमशान घाट भी पानी में डूब गया है। इससे शव जलाने के लिए परेशानी बढ़ गई है। दूरदराज से प्रतिदिन दर्जनों शव बैकुंठधाम गाज़ीपुर में गंगा नदी में जलने के लिए आते रहते हैं। परंतु गंगा की अप्रत्याशित बाढ़ से शमशान घाट डूब जाने से शवदाह अब जहां भी जगह मिल रही है वहीं करने को लोग मजबूर हैं।