*हत्या के मामले में महिला सहित दो गिरफ्तार*
कृपाशंकर यादव गाज़ीपुर । 18 अगस्त को थाना मरदह पर सूचना मिली कि थाना क्षेत्रार्न्तगत ग्राम भोजापुर में एक युवती का गला काटकर शव फेंका गया है । सूचना पर मरदह पुलिस द्वारा तत्काल मौके पर पहुँच कर शव को कब्जे में लेकर शिनाख्त कराने का प्रयास करते हुए पोस्टमार्टम की कार्यवाही की गयी । ग्राम प्रधान की तहरीर पर थाना मरदह पर मु0अ0स0189/21 धारा 302/201 भा0द0वि0 बनाम अज्ञात पंजीकृत कर विवेचना की कार्यवाही की जा रही थी पुलिस अधीक्षक डॉ.ओम प्रकाश सिंह द्वारा घटना के शीघ्र अनावरण हेतु निर्देशित किया गया था । जिसके क्रम में अपर पुलिस अधीक्षक ग्रामीण एवं क्षेत्राधिकारी कासिमाबाद के मार्गदर्शन में स्वाट टीम व थाना मरदह पुलिस द्वारा आज 25अगस्त को घटना में शामिल 01 अभियुक्त व 01 अभियुक्ता को हैदरगंज चट्टी से गिरफ्तार किया गया । पूँछताछ का विवरण पूँछताछ में अभियुक्त द्वारा बताया गया कि विगत कई वर्षो से मैं जनपद बलिया में रह रहा था इस दौरान मेरा संपर्क अभियुक्ता उषा देवी से हुआ तथा लाकडाउन के दौरान मैं अभियुक्ता के घर पर ही रह रहा था । अभियुक्ता के गाँव की ही एक महिला जिसका नाम मिन्ता (मृतका) है उसके द्वारा मेरे एवं अभियुक्ता उषा के संबंधो को लेकर गाँव में अनाप शनाप प्रचार किया गया तथा उसने अभियुक्ता के पति को भी बता दिया था, जिसका बदला लेने के लिए मेरे द्वारा मृतका को अपने विश्वास में लेकर संपर्क में आया । साजिश के तहत 17अगस्त को अभियुक्ता तथा मृतका को दवा दिलाने के बहाने लेकर चला । अभियुक्ता द्वारा मृतका को जान से मारने हेतु कहा गया और वापस चली गई । जिसपर मेरे द्वारा मृतका को लेकर अपने गाँव भोजापुर लाकर एक सूनसान स्थान पर ले गया वहा बैठकर काफी देर बाते की और मौका मिलते ही अपने हाथ से गर्दन दबाकर नाली में गिराकर हसुआ से गला काट दिया ।शव को छिपाने के लिए उस स्थान से ले जाकर जंगल में फेक दिया तथा दुबारा आकर उसका कटा हुआ सिर तथा चप्पल ले जाकर जंगल में फेंक दिया ।