फ्रेंडशिप डे का हम सभी के जीवन में अपना एक अलग महत्व है
दुर्गा दत्त मिश्र की रिपोर्ट
राजकीय कन्या इंटर कॉलेज खलीलाबाद
सं तकबीरनगर उत्तर प्रदेश की व्यायाम शिक्षिका सोनिया ने कहा कि दोस्तो की मदद से बड़ा से बड़ा काम आसान हो जाता है। इस वैश्विक महामारी कोविड-19 के कारण जहां स्कूल कॉलेज बंद हो जाने के कारण लोगो का आपस में मिलना जुलना नहीं हो पा रहा था। वहीं हम लोगो ने दोस्तों एवम् बच्चो से फोन पर या ऑनलाइन जुड़ कर एक दूसरे से बहुत कुछ सीखा और सिखाया।साथ ही साथ बच्चो का किसी भी प्रकार से पढ़ाई लिखाई कि नुकसान ना हो नित नए नए ऑनलाइन शिक्षा के लिए इनोवेशन किए।बच्चो को एक अच्छी शिक्षा मुहैया कराने के लिए दोस्तो के साथ मिलकर नित नए नए क्रिएटिव किया गया। हम सब दोस्त एवं बच्चे मिलकर सोनिया जी, जी ,आई ,सी ,एक नई पहल नामक ब्लॉग की शुरुवात की गई। कोरोना महामारी के दौरान दोस्तो एवम् बच्चों ने मिलकर ऑनलाईन पढ़ाई के साथ ही साथ लोगो की मदद की शुरुवात की गई । इस से पाढ़ाने के साथ ही साथ नए बच्चो को जानने का भी मोका मिला । ओर एक सामाजिक जीवन का निर्वाहन किया गया। कोविड-19 काल में हम सभी अध्यापिकाएं एवम् बच्चे एवम् जिले के सभी पत्रकार बंधु मिलकर करीब बीस हजार मास्क , फल,राशन किट, सेन टाइजर, ओर जरूरत मंदो को भोजन कराया गया।कुछ बच्चों एवम् अभिभावकों ने मोबाइल 24 घंटे मोबाइल फोन आंन करके रखें ताकि जरूरत मंद लोगों तक मदद पहुंचाने में देर ना हो सके।गरीब बच्चों को शिक्षा की बुनियादी जरूरतों को पूरी करने का पूरा प्रयास करते थे।लेकिन कोविड-19 काल में इसका ओर विस्तार हो गया।अपने शहर खलीलाबाद संतकबीरनगर जिले के सभी पत्रकार महोदय लोगो के सहयोग से जिले से गुजरने वाले हर एक प्रवासी भारतीय मजदूरों को भोजन पानी मुहैया कराई जाती थी। राजकीय कन्या इंटर कॉलेज खलीलाबाद संतकबीरनगर उत्तर प्रदेश की व्यायाम शिक्षिका सोनिया ने कहा कि *अगर नियत अच्छी हो तो राह मिलने ने देर नहीं लगती*।ये सब काम दोस्तो के जरिए आसान हो गया इसलिए हम सब के जीवन में फ्रेंड शिप का बहुत ही बड़ा महत्व है। आज भी हम सब कृष्ण सुदामा की दोस्ती को आज भी हम सब याद करते हैं। और हम उनसे प्रेरणा लेकर अपने मित्रों को मदद करने के लिए सदा तत्पर रहते हैं।