टाउन हाल आडिटोरियम में उत्कृष्ट कार्य करने वाली महिलाओं का हुअा सम्मान
कमलाकर मिश्न की रिपोर्ट
देवरिया- उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा प्रदेश में नारी सशक्तिकरण के साथ, नारी सुरक्षा, सम्मान एवं महिलाओं को उनका अधिकार दिलाये जाने के लिए आज मिशन शक्ति 3.0 अभियान का शुभारंभ किया गया। मिशन शक्ति अभियान 3.0 अभियान का शुभारंभ मा0 राज्यपाल महोदया, मा0 मुख्यमंत्री जी, मा0 वित्त मंत्री भारत सरकार महोदया द्वारा किया गया। इस अवसर पर मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना के अन्तर्गत पात्र 1.55 लाख बालिकाओं को अनुदान राशि का ऑनलाइन हस्तांतरण भी किया गया। इसके उपरान्त प्रदेश के समस्त जनपदों में मिशन शक्ति 3.0 अभियान की शुरूआत की गई।आज मिशन शक्ति-3 अभियान के शुभारंभ के अवसर पर टाउनहाल आडिटोरियम में विभिन्न क्षेत्रों में उत्कृष्ट कार्य करने वाले महिलाओं के सम्मान कार्यक्रम आयोजित हुआ। कार्यक्रम में लखनऊ में आयोजित कार्यक्रम का सजीव प्रसारण के लिए भी व्यवस्था की गई। कार्यक्रम में बतौर मुख्य अतिथि कृषि मंत्री सूर्य प्रताप शाही, विशिष्ठ अतिथि मत्स्य राज्य मंत्री जय प्रकाश निषाद, जिला पंचायत अध्यक्ष गिरीश तिवारी, विधायक सदर डा सत्य प्रकाश मणि त्रिपाठी, पुलिस अधीक्षक डा श्रीपति मिश्र एवं प्रभारी जिलाधिकारी व मुख्य विकास अधिकारी रविन्द्र कुमार द्वारा द्वीप प्रज्जवलित करते हुए कार्यक्रम का शुभारंभ किया गया। इस अवसर पर जनपद में मिशन शक्ति फेज 1 एवं 02 में राजस्व, पुलिस, स्वास्थ्य विभाग, बेसिक एव माध्यमिक शिक्षा, आंगनवाड़ी, आशा, एएनएम, खेल कूद महिलाओं, स्वयं सहायता समूह की महिलाओं द्वारा महिलाओं के उत्थान एवं जागरूक किये जाने में उत्कृष्ट कार्य करने पर उन्हें मुख्य अतिथि एव विशिष्ट अतिथि द्वारा प्रशस्ति पत्र प्रदान सम्मानित किया गया। कार्यक्रम में बतौर मुख्य अतिथि कृषि मंत्री श्री शाही ने कहा कि अपने देश में नारियों की पूजा होती रही है, स्वतंत्रता संग्राम से लेकर सभी क्षेत्रों में नारियों की महत्वपूर्ण भूमिका रही है। ओलंपिक में भी पदक जीतकर सबसे पहले महिला में ही आशा की किरण जगाई नारी सुरक्षा व उसके सम्मान के लिए सभी आगे बढ़े और इसके लिए कार्य करें। प्रधानमंत्री एवं मुख्यमंत्री जी द्वारा इसके लिए निरंतर अभियान चलाकर कार्य किया जा रहा है। इसके अच्छे परिणाम भी आए हैं। इसके दृष्टिगत मिशन शक्ति को और आगे बढ़ाते हुए तृतीय चरण का शुभारंभ आज किया गया है। उन्होंने सभी को रक्षाबंधन की शुभकामनाएं एवं बधाई देते हुए महिलाओं के सशक्तिकरण के लिए संकल्प के साथ कार्य करने की जरूरत पर बल दिया। मत्स्य राज्यमंत्री श्री निषाद ने कहा कि महिलाओं के सम्मान सुरक्षा स्वालंबन के लिए वर्ष 2014 से वास्तविक रूप से कार्य शुरू हुआ है। महिलाएं आज शिक्षा नौकरी सहित उच्च पदों पर आसीन है। यह महिला सशक्तिकरण का ही परिचायक है। सदर विधायक श्री त्रिपाठी ने कहा कि मिशन शक्ति बहुत ही महत्वपूर्ण कार्यक्रम है। महिला सम्मान सुरक्षा एव उनमें आत्मनिर्भरता लाने में यह मिशन अहम भूमिका निभा रही है। पुलिस अधीक्षक श्री मिश्र ने कहा कि यह अभियान आगामी दिसंबर माह तक चलेगा। नारियों की सुरक्षा हो उनका स्वालंबन व सम्मान हो और ऊंचाईया यह मिशन हासिल करें, इसके लिए सभी को कटिबद्ध होकर कार्य करने की जरूरत है। उन्होंने आज सम्मानित महिलाओं से अपेक्षा करते हुए कहा कि इससे अधिक से अधिक महिलाओं को जोड़ें, तो महिला सशक्तिकरण की दिशा में महत्वपूर्ण कार्य होगा। कार्यक्रम की अध्यक्षता कर रहे दिव्यांगजन सशक्तिकरण अधिकारी मीनू सिंह ने महिला सशक्तिकरण की दिशा में किए जा रहे कार्यों पर विस्तृत रूप से प्रकाश डाला और सभी को नारियों का सम्मान किए जाने को कहा। इस अवसर पर वन स्टॉप सेंटर 181 के नवनिर्मित भवन का लोकार्पण कृषि मंत्री श्री शाही सहित सभी अतिथियों द्वारा किया गया। कार्यक्रम का संचालन मंजू पांडेय द्वारा किया गया। अपर जिलाधिकारी प्रशासन कुंवर पंकज द्वारा स्वागत भाषण के माध्यम से अतिथियों का स्वागत किया गया। कस्तूरबा राजकीय इंटर कालेज की छात्राओ ने स्वागत गीत प्रस्तुत किया। इस अवसर पर न्यायिक मजिस्ट्रेट पूजा राय, सदर सांसद प्रतिनिधि रविन्द्र प्रताप मल्ल, ब्लाक प्रमुख वृंदा कुशवाहा, सीमा सिंह, सावित्री राय, एमएलसी प्रतिनिधि राजू मणि, राजेश मिश्रा, अंबिकेश पांडेय, जिला प्रोबेशन अधिकारी प्रभात कुमार, बाल कल्याण अधिकारी जेपी तिवारी, मीनू जायसवाल, संबंधित कर्मचारी, अधिकारी प्रबुद्धजन, महिला सशक्तिकरण से जुड़ी महिलाएं आदि उपस्थित रहे।