अंतरराष्ट्रीय युवा दिवस
दुर्गा दत्त मिश्र की रिपोर्ट
अंतरराष्ट्रीय युवा दिवस पर राजकीय कन्या इंटर कॉलेज खलीलाबाद संतकबीरनगर उत्तर प्रदेश की व्यायाम शिक्षिका सोनिया ने कहा कि किसी भी देश की प्रगति में युवाओं की भागीदारी सबसे अहम होती हैं जिस देश की आबादी सबसे बड़ा हिस्सा युवा का होता है ।तो फिर उस देश को तरक्की करने और हर क्षेत्र में आगे बढ़ने से कोई नहीं रोक सकता है। लेकिन सबसे खास बात यह है कि युवाओं को सही दिशा और सही मार्गदर्शन के साथ ही साथ बेहतर शिक्षा मिले ।इसलिए जरूरी है कि युवाओं को आगे बढ़ाने और उन्हें मौका देने के लिए अवसर उपलब्ध कराया जाए साथ ही साथ उनके द्वारा किए गए अन्य कार्यों और अविष्कारों को देश दुनिया तक पहुंचाई जाए। हमारे देश के सभी युवा अपनी नई सोच, नई उमंग, नए जोश, बुलंद हौसले के साथ आगे बढ़े। जिन युवाओं के पास बुलंद हौसले होते हैं। वही एक दिन कामयाबी की कीर्तिमान स्थापित करते हैं। देश के सभी ओजस्वी युवाओं का आह्वान है कि वे अपनी प्रतिभा और ऊर्जा और उत्साह से समाज सेवा की भावना के साथ साथ राष्ट्र निर्माण में अपना अपना महत्वपूर्ण योगदान दें। हमारे देश के ओजस्वी युवा ,ऊर्जा और उत्साह से परिपूर्ण राष्ट्र निर्माण में अपनी सहभागिता निभाने वाले युवाओं की हर क्षेत्र में भागीदारी सामाजिक आर्थिक,राजनीतिक, नई खोज नई तकनीकों की जानकारी प्राप्त कर अपनी कार्यशैली परिवर्तित कर देश को बुलंदियों पर ले जाएं। आज के युवा वर्ग को विश्वस्तरीय प्रतिस्पर्धा में शामिल होना अति आवश्यक हो गया है। यह प्रतिस्पर्धा एक और समाज को सुख शांति, सामाजिक ,राजनीतिक, आर्थिक रूप से पहुंचाने और उनकी आवाज तथा अन्य कार्यों और उनके द्वारा किए गए नित नए नए अविष्कार देश दुनिया तक पहुंचाने के लिए प्रयासरत है । हर वर्ष 12 अगस्त को अंतरराष्ट्रीय युवा दिवस मनाया जाता है। युवा दिवस मनाने का इसका मुख्य उद्देश्य यह है कि युवाओं की समस्या को अंतरराष्ट्रीय संगठन जैसे संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार तक पहुंचाना है।