मिशन शक्ति, नारी सुरक्षा ,नारी सम्मान ,नारी स्वालंबन अभियान
जिला प्रभारी राजीव कुमार पांडे की रिपोर्ट
गाजीपुर 21 अगस्त 2021 मिशन शक्ति, नारी सुरक्षा ,नारी सम्मान ,नारी स्वालंबन अभियान के तीसरे चरण का शुभारंभ जिला पंचायत सभागार मे किया गया । मंच उपस्थित मुख्य अतिथि एंव विशिष्ट अतिथियों का स्वागत पुष्प गुच्छ देकर किया गया।
क ार्यक्रम का शुभारम्भ मुख्य अतिथि अध्यक्ष जिला पंचायत सपना सिंह ने दीप प्रज्ज्वलित एवं मॉ सरस्वती के चित्र पर पुष्प अर्पित कर किया। उन्होने मिशन शक्ति में उपस्थित महिलाओं एवं बहनों को बधाई देते हुए अपने संबोधन में कहा कि आप लोग इस कार्यक्रम में बढ़ चढ़कर हिस्सा लेना मिशनशक्ति को ही दर्शाता है। उन्होंने इसकी प्रशंसा करते हुए रक्षाबंधन त्यौहार की बधाई दी तथा कहा कि इस बार आप बहनो द्वारा रक्षाबंधन के त्यौहार पर स्वयं भाइयों की रक्षा करने का वचन दें। विधायक सदर संगीता बलवंत ने जनपद की 75 चयनित महिलाओं को बधाई देते हुए कहा कि हमें प्रत्येक दशा में बालिकाओं की भ्रूण हत्या से बचना है। आज के दिन भारत की नारियां बढ़-चढ़कर माता-पिता , समाज एवं राष्ट्र का नाम रोशन कर रही है, चाहे वह खेल स्पर्धा हो, राजनीति हो या सामाजिक सेवा हो। जो महिलाओं को प्रोत्साहित करते हैं। उन्होंने कहा कि हमारा गाजीपुर जनपद पूरे प्रदेश में नारी सशक्तिकरण का उदाहरण है, जहां से 3 महिला विधायक, एक जिला पंचायत अध्यक्ष तथा एक नगर पालिका अध्यक्ष के पद को सुशोभित करते हुए हुए समाज की सेवा कर रही हैं। जो प्रत्येक महिलाओं एवं बहनों के लिए प्रेरणादायी है। हम उस देश के लोग हैं जहां पर अपाला, विद्योत्तमा, घोषा, महादेवी वर्मा जैसी महिलाओं ने जन्म लिया है , हम उस देश के निवासी हैं जहां सुनीता विलियम्स, कल्पना चावला जैसी महिला वैज्ञानिक ने देश का नाम रोशन किया। हम उस देश के निवासी हैं जहां बचेंद्री पाल, रानी लक्ष्मीबाई, महारानी झलकारी बाई जैसी विरांगनाओ ने जन्म लिया है। जो हर क्षेत्र में भारतवर्ष को गौरवान्वित करती चली आ रही है। ऐसी महिलाओं को नमन है। हमें उसी धारा को आगे बढ़ाते हुए जिस पर प्राचीन काल एवं वर्तमान समय की नारियॉ देश को आगे ले जाने का काम कर रही है । उसी तरह जनपद गाजीपुर के लोगों का भी योगदान हो। जिलाधिकारी ने कहा उत्तर प्रदेश सरकार के माननीय मुख्यमंत्री जी के दिशा निर्देशन में मिशन शक्ति के तीसरे अभियान का आरंभ किया गया है। जिसमें जनपद में विभिन्न क्षेत्रों में उल्लेखनीय व प्रेरणादायक कार्य करने वाली महिलाओं को सम्मानित किया गया है। जिलाधिकारी बताया कि मिशन शक्ति अभियान का यह तीसरा चरण है । जिसका प्रथम चरण पिछले वर्ष शारदीय नवरात्र से प्रारंभ हुआ है जो माह दिसंबर 2021 तक चलेगा। उन्होने बताया कि उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा महिलाओं एवं बच्चों के लिए एक अलग विभाग, महिला एवं बाल विकास विभाग बनाया गया है इस विभाग द्वारा महिलाओं की सुरक्षा, स्वावलंबन और गरिमा के लिए समय-समय पर भिन्न-भिन्न योजनाएं चलाई जा रही हैं एवं अधिनियम भी बनाये गए हैं। उन्होंने महिला एवं बाल विकास विभाग द्वारा चलाई जा रही समस्त योजनाओं की विस्तार पूर्वक जानकारी देते हुए बताया कि इस विभाग के माध्यम से कन्या सुमंगला योजना, आपकी सखी, आशा ज्योति केंद्र का संचालन, उत्तर प्रदेश रानी लक्ष्मीबाई महिला एवं बाल कोष सम्मान, बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ योजना, 1090, 181, 1076, 112, 1098, 108 हेल्पलाइन, राष्ट्रीय सामाजिक सहायता कार्यक्रम, निराश्रित महिला पेंशन, पति की मृत्यु उपरांत पेंशन योजना, दहेज पीड़ित महिला, उज्ज्वला योजना एवं अन्य योजनाएं जो चलाई जा रही हैं वह महिलाओं की सुरक्षा एवं उसके स्वाभिमान के लिए चलाई जा रही है। जिसे जिला प्रशासन एवं संबंधित विभाग लगातार क्रियान्वित कर रहा है। मिशन शक्ति फेज वन से ही शासन के निर्देश पर महिला हेल्प डेस्क बनाए जा गये हैं, जहां केवल महिला कर्मचारियों की तैनाती की गई है जो आने वाले महिलाओं की समस्याओं को सुनती हैं तथा उसका निराकरण भी कराती हैं। जिसका परिणाम बेहतर है। जिलाधिकारी ने उपस्थित महिलाओं एवं बहनों से अनुरोध किया कि आप लोग बेटो एवं बेटियों में अंतर करना बंद करें, सब को एक समान दर्जा दिया जाए । जितना मेहनत अपने बेटों के लिए करते हैं उससे अधिक मेहनत अपने पुत्रियों को आगे बढ़ाने के लिए करने की जरूरत है । उन्होने घरेलू हिंसा को रोकने तथा पुत्रियों को सशक्त बनाये जाने पर बल दिया तथा कहा कि किसी के द्वारा लड़कियों के प्रति अशोभनीय व्यवहार, दुराचार या छेड़छाड़ करता है तो उसे कतई ना दबाए बल्कि उसको ताकत दें तथा जो इस तरह का कृत्य करता है तो उसे दंड दिलाने की कार्रवाई करें । उन्होंने उम्मीद किया है कि यह नारी शक्ति अभियान जनपद एवं प्रदेश के विकास में सहायक होगा । पुलिस अधीक्षक डॉ0 ओम प्रकाश सिंह ने कहा कि जनपद में मिशन शक्ति के प्रथम फेज से ही समस्त थानों में महिला हेल्पडेस्क बनाया गया है । जहां महिला कर्मचारियों की तैनाती कर जन शिकायतों को सुनकर उसका गुणदोष के आधार पर निस्तारण कराया जा रहा है । उन्होंने बताया कि मिशन शक्ति के तृतीय फेज में एक अलग ही कार्यक्रम किया जाएगा जिसमें ग्रामीण क्षेत्र, ईट भट्टों, मलिन बस्तियों और ऐसे स्थानों पर जहां महिला उत्पीड़न के केस होने की संभावना होती है वहां भ्रमण कर चिन्हित करते हुए कार्रवाई का कार्यक्रम किया जायेगा। पिछले 3 सालों में जिनके द्वारा महिलाओं के प्रति अपराध किए गए हैं उन्हें चिन्हित करते हुए सत्यापित कर उन्हें सजा दिलाये जाने का करवाई इस चरण में की जाएगी। उन्होने बताया कि 1 जनवरी 2021 से अब तक जनपद में 190 पारिवारिक विवाद के मामलों में से 185 मामलों को सुलह समझौते करा कर पुनः स्थापित किया गया है। शेष 05 केश में समझौता न होने के कारण अभियोग पंजीकृत करते हुए उनके ऊपर कार्रवाई की गई। उन्होंने कहा कि अब तक दूर दराज से आने वाली महिलाओं द्वारा स्वयं कहा जाता है कि वाराणसी से लेकर बिहार के बॉर्डर तक आने जाने में अब किसी तरह का भय नहीं है। अपनी बच्चियों एवं परिवार के लोगों को किसी भी वाहन से भेजने में अब डर नहीं लगता हमारी बेटियां आती जाती रहती हैं उन्होने कहा कि जनपद में इस तरह की भावना जागृत हुई है वह हमारे लिए एक उपलब्धि है । उन्होंने वचन दिया कि ऐसे ही पुलिस 24 घंटे अपने कार्य में तत्पर रहेगी और विशेष रूप से महिलाओं एवं बालिकाओं के संबंध में होने वाले अपराध के प्रति सजग रहेंगे। किसी भी समय हेल्पलाइन नंबर पर संपर्क कर अपनी शिकायत दर्ज करा सकते हैं। मिशन शक्ति के तीसरे चरण में आज विभिन्न क्षेत्रों में उल्लेखनीय प्रेरणादायक संघर्ष करने वाली 75 महिलाओं को मुख्य अतिथि जी द्वारा मिशनशक्ति प्रमाण पत्र देकर सम्मानित किया गया कार्यालय मुख्य चिकित्साधिकारी, गाजीपुर 10, महिला सुरक्षा क्षेत्र पुलिस/पी0आर0डी0/होमगार्डस गाजीपुर के 10, महिला ग्राम प्रधान, नगर पालिका परिषद के सभासद गाजीपुर के 10, बहादुरी एवं शौर्य के क्षेत्र मे 05, स्वरोजगार समूह महिलाओं/सदस्यों 10, कार्यालय जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी 05, जिला विद्यालय निरीक्षक 05, राजकीय महिला स्नातकोत्तर महाविद्यालय गाजीपुर 05, कार्यालय जिला कार्यक्रम अधिकारी गाजीपुर 05, कार्यालय मुख्य चिक्त्सिाधिकारी आशा 05, अन्य क्षेत्रों मे कार्य करने वाली उत्कृष्ट महिलाएं 05 महिलाओं जिसमें फुटवाल कोच संगीता यादव, को मिशन शक्ति प्रमाण पत्र देकर सम्मानित किया गया। कार्यक्रम से पूर्व इंदिरा गांधी प्रतिष्ठान लखनऊ से माननीय मुख्यमंत्री जी के कार्यक्रम का सजीव प्रसारण दिखाया गया जिसमें माननीय मुख्यमंत्री जी महामहिम राज्यपाल व केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण जी का उद्बोधन सभी ने सुना। कार्यक्रम का संचालन राजकीय महिला महाविद्यालय असि0प्रोफेसर शशिकला जायसवाल एंव सुभाष चन्द्र प्रसाद ने किया तथा आभार मुख्य विकास अधिकारी श्री प्रकाश गुप्ता ने व्यक्त किया। इस अवसर पर अध्यक्ष नगर पालिका अध्यक्ष सरिता अग्रवाल, जिला प्रोबेशन अधिकारी बाल गोविन्द, अपर पुलिस अधीक्षक (नगर) गोपी नाथ सोनी, अपर पुलिस अधीक्षक ग्रामीण, अधीशासी अधिकारी नगर पालिका लाल चन्द्र सरोज एंव अन्य सम्बन्धित अधिकारी कर्मचारी उपस्थित थे।