काबुल से गाजीपुर के युवक ने लगाई स्वदेश वापसी की गुहार, परिजनों से मिलने पहुंचे एसडीएम*
कृपाशंकर यादव
गाजीपुर।अफगानिस्तान पर तालिबान के कब्जे के बाद वहां के हालात काफी बिगड़ गए।अपने लोगों को अफगानिस्तान से निकालने के लिए भारत सरकार भी प्रतिबद्ध दिख रही है। उसी क्रम में गाज़ीपुर जनपद के कासिमाबाद तहसील अंतर्गत जयरामपुर(भगवल) गांव निवासी कन्हैया शर्मा पुत्र अच्छे शर्मा काबुल में फंसे हुए है। गाजीपुर के युवक के काबुल में फंसे होने की जानकारी मिलते ही एसडीएम कासिमाबाद भरत भार्गव ने परिजनों से मुलाकात कर उन्हें भरोसा दिलाया कि कन्हैया ठीक-ठाक है। एसडीएम ने व्हाट्सएप कॉलिंग कर कन्हैया से बात की और मीडिया को बताया कि वह काबुल शहर से पांच किमी दूरी पर महफूज जगह पर सुरक्षित है।उन्होंने बताया कि अप्रवासी लोगों के लिए वहाँ रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया चल रही है।जिसमें कन्हैया का रजिस्ट्रेशन हो गया है।सम्भवतः आने वाली 25 तारिख तक वह भारत आ जायेगा। कन्हैया विश्वकर्मा की पत्नी रीना शर्मा ने भारत सरकार से अपने पति को स्वदेश लाने की मांग की। कन्हैया के तीन बच्चे है।