चार झोपड़ी सहित उसमें रखा 10 हजार नकदी, 9 बोरी गेहूं, सरसो, भूसा के साथ ही अन्य सामान जलकर खाक
जिला प्रभारी राजीव कुमार पांडेय की रिपोर्ट
गाजीपुर-रेवतीपुर थानाक्षेत्र के नरयनापुर गांव निवासी महंगू यादव का परिवार शनिवार की रात खाना खाने के बाद सो रहा था। देर रात उसकी आंख खुली तो देखा कि चारों तरफ आग की लपटें उठ रही थी। उसके शोर मचाने पर पास-पड़ोस के लोग भी जग गए। जबतक लोग लोग आग बुझाने की कोशिश करते आग ने एक के बाद एक नौ झोपड़ियों को अपनी जद में ले लिया। लोगों ने फायर ब्रिगेड को इसकी सूचना दी। मौके पर पहुंचे फायर कर्मियों ने लोगों की मदद से काफी प्रयास कर दो घंटा बाद आग पर काबू पाया। आग की इस घटना में सहंगू यादव की चार झोपड़ी सहित उसमें रखा 10 हजार नकदी, 9 बोरी गेहूं, सरसो, भूसा के साथ ही अन्य सामान और महंगू यादव की चार झोपड़ी के साथ ही पेशगी के लिए रखा 20 हजार नकदी सहित खाद्यान्न आदि जलकर राख हो गया। गोपाल यादव की भी एक झोपड़ी सहित हजारों का गृहस्थी का सामान आग की भेंट चढ़ गया। आग में सबकुछ जल जाने के बाद पीड़ित खुले आसमान के नीचे आ गए है,न तो पेट भरने के लिए अनाज बचा और न ही तन ढकने के लिए कपड़ा। जिला पंचायत सदस्य प्रतिनिधि विनोद गुप्ता ने पीड़ितों आर्थिक सहायता देने के साथ ही खाद्यान्न उपलब्ध कराया।