11सितंबर को राष्ट्रीय लोक अदालत का आयोजन- न्यायाधीश आरिफ
कमलाकर मिश्र की रिपोर्ट
राष्ट्रीय विधिक सेवा प्राधिकरण नई दिल्ली एवं उ0प्र0 राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण लखनऊ के आदेशानुसार बृहस्पतिवार को जनपद न्यायाधीश व अध्यक्ष जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के निर्देशानुसार जिला विधिक सेवा प्राधिकरण देवरिया के तत्वावधान में 11सितंबर दिन शनिवार को जनपद न्यायालय के परिसर में राष्ट्रीय लोक अदालत का आयोजन किया जाना सुनिश्चित हैं। इस निमित्त राष्ट्रीय लोक अदालत में अधिकाधिक संख्या में वादों के निस्तारण हेतु मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट के विश्राम कक्ष में समस्त सम्मानित न्यायिक मजिस्ट्रेट अधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक आहूत की गयी। मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट न्यायाधीश सूर्य कान्त धर दूबे ने लोक अदालत में अब तक की की गयी कार्यवाही की समीक्षा की। उन्होंने कहा कि समस्त न्यायिक अधिकारी अधिक से अधिक संख्या में नोटिसों को भेजकर ससमय तामिला करायें जिससे लोक अदालत में अधिक से अधिक संख्या में वादों का निस्तारण किया जा सकें। जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के सचिव न्यायाधीश आरिफ निसामुद्दीन खान ने कहा कि समस्त न्यायिक अधिकारी इस बार लोक अदालत में अधिकाअधिक संख्या में वादों के निस्तारण का लक्ष्य रखें। उन्होंने लोक अदालत की सफलता हेतु समस्त न्यायिक अधिकारियों को एक साथ आगे आने का आह्वान किया। उन्होंने कहा कि उक्त राष्ट्रीय लोक अदालत में धारा 138 एन0आई0एक्ट, बैंक वसूली वाद, मोटर दुर्घटना प्रतिकर याचिकाएं, पारिवारिक वाद, श्रम, भूमि अधिग्रहण वाद, विद्युत, जल एवं सर्विस से संबंधित मामलें, राजस्व एवं सिविल वाद एवं प्री-लिटिगेशन मामलों का निस्तारण किया जाना हैं। न्यायाधीश द्वारा यह भी कहा गया कि उक्त राष्ट्रीय लोक अदालत में शासन द्वारा जारी कोविड-19 से संबंधित गाईड लाईन्स का अक्षरसः पालन किया जायेगा। इस बैठक में मुख्य रूप से अपर मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट तहरीम खान, सिविल जज (सी0डी0) एफ0टी0सी प्रथम इसरत परवीन फारूकी, न्यायिक मजिस्ट्रेट प्रिया कुमारी राय, अपर सिविल जज अंकित राज सिंह, अपर सिविल जज नीलम वर्मा, अपर सिविल जज आदित्य जायसवाल, अपर सिविल जज कुॅवर रोहित आनंद, अपर सिविल जज अमन कुमार एवं अपर सिविल जज मनोज यादव उपस्थित रहें।