आंगनबाड़ी केन्द्र 15 सितंबर तक बन्द*
जिला प्रभारी राजीव कुमार पांडेय की रिपोर्ट
लखनऊ-उत्तर प्रदेश के सभी आंगनबाड़ी केंद्रों को 15 सितंबर तक के लिए बंद कर दिया गया है। इन केंद्रों में 3 से 6 वर्ष उम्र तक के बच्चे आते हैं। निदेशक बाल विकास एवं पुष्टाहार डॉ. सारिका मोहन की ओर से शुक्रवार देर शाम यह आदेश जारी किया गया। प्रदेश में कोरोना संक्रमण की मौजूदा स्थिति को देखते हुए 3 से 6 वर्ष तक के बच्चों की सुरक्षा को देखते हुए इन केंद्रों को बंद करने का यह अहम फैसला लिया गया है। निदेशक की ओर से सभी जिला अधिकारी और जिला प्रशासन के जिम्मेदारों को इसे कड़ाई से लागू किए जाने को कहा गया है।बता दें कि कोरोना की वजह से आंगनबाड़ी केंद्र 15 सितंबर तक बंद कर दिए गए हैं। प्रदेश में विशेष सतर्कता बरतने के लिए इन आंगनबाड़ी केंद्रों को बंद किया गया है। इस दौरान आंगनबाड़ी कार्यकत्रियों द्वारा केंद्र खोलकर अनुपूरक पोषाहार प्राप्त किया जाएगा। कार्यकत्रियों द्वारा लाभार्थी को डोर-टू-डोर किया जाएगा वितरण। बता दें कि उत्तर प्रदेश सरकार की ओर से तीन चरणों में कक्षा 1 से 12 तक के स्कूलों को खोला जा चुका है। छोटे-छोटे बच्चे पहले से ही स्कूल जा रहे हैं। वहीं आंगनबाड़ी केंद्रों के खुले होने का हवाला देकर प्री-स्कूल्स भी खुलने लगे थे। ऐसे में विभाग की ओर से जारी इस आदेश के बाद यह साफ हो गया है कि प्री-स्कूल में भी बच्चों को नहीं बुलाया जायेगा।