विजय की 50 वीं जयंती पर समारोह आयोजित*
कमलेश कुमार सदर रिपोर्टर गाजीपुर।
गाजीपुर-जिला कांग्रेस कार्यालय पर बांग्लादेश के विजय की 50वीं जयंती समारोह का आयोजन हुआ जिसमें भूतपूर्व सैनिकों को सम्मानित किया गया उक्त कार्यक्रम में सुभाष मिश्रा संयोजक उत्तर प्रदेश सैनिक प्रकोष्ठ के भी विशेष रूप से उपस्थित थे। जिला अध्यक्ष सुनील राम ने कहा कि आज हम उनका स्वागत कर रहे हैं जो देश के सरहद कि रक्षा करते हुए आज रिटायर हो चुके हैं हमें उनका स्वागत करते हुए बड़ा गौरव का अनुभव हो रहा है कांग्रेस 50 वी स्वर्ण जयंती बांग्लादेश विजय समारोह के अवसर पर उन भूतपूर्व सैनिकों का सम्मान कर रही है जिनकी वजह से आज हम देश के अंदर सुरक्षित हैं और चैन से सोते हैं । कांग्रेस हि एक ऐसी पार्टी है जो सैनिकों या भूतपूर्व सैनिकों का सम्मान सबसे ज्यादा करती है पिछली बार कांग्रेस पार्टी ने 11 भूतपूर्व सैनिकों को टिकट भी दिया था। उक्त कार्यक्रम में सुभाष मिश्रा संयोजक उत्तर प्रदेश सैनिक प्रकोष्ठ ने कहा कि पाकिस्तान से बांग्लादेश बंटवारे के बारे में डिटेल में बताया उन्होंने बताया कि पाकिस्तान में हुए चुनाव के परिणाम को ना मानकर वर्तमान पाकिस्तान सरकार अपनी मनमानी की जिसके चलते शेख मुजीर रहमान ने 25 मार्च 1971 को स्वतंत्र बांग्लादेश की घोषणा कर दी जिसकी भारत के प्रधानमंत्री श्रीमती इंदिरा गांधी जी ने सहर्ष स्वीकार किया ‌। पाकिस्तान सरकार के क्रूर अत्याचार से 80 लाख शरणार्थी भारत आ गए जिसका दबाव हमारे देश पर बढ़ता चला गया। और तनाव बढ़ता गया और युद्ध शुरू हुआ जिसमें पाकिस्तान की सेना बुरी तरह पराजित हुईं और पाकिस्तानी सेना के 93000 सैनिकों ने आत्मसमर्पण किया । तब जाकर 16 दिसंबर1971 को बांग्लादेश अस्तित्व में आया ।