डीएम ने की राजस्व, चकबन्दी एवं वसूली कार्यो की समीक्षा -डीएम
कमलाकर मिश्न की रिपोर्ट
देवरिया -जिलाधिकारी आशुतोष निरंजन गूगल मीट के माध्यम से राजस्व, चकबन्दी एवं वसूली कार्यो की समीक्षा के दौरान सभी उप जिलाधिकारियों एवं तहसीलदारो को निर्देश दिया है कि खतौनी एवं खसरा दुरुस्तीकरण कार्य में किसी प्रकार की कोताही न बरते। उन्होने इस कार्य में कम प्रगति वाले उप जिलाधिकारी एवं तहसीलदार सदर एवं रुद्रपुर को कार्य में सुधार लाए जाने के लिए सचेत भी किया। जिलाधिकारी श्री निरंजन समीक्षा में यह भी निर्देश देते हुए कहा कि लेखपालो को इस कार्य में लगायें एवं मुख्य राजस्व अधिकारी सहित उप जिलाधिकारी गण इसका अनुश्रवण भी करते रहें। जिस लेखपाल या संबंधित कर्मी द्वारा इसमें शिथिलता बरती जाए उसे चिन्हित करते हुए कार्यवाही भी करें। जिलाधिकारी ने राजस्व संहिता के तहत विभिन्न धाराओं के वादों का भी निस्तारण प्राथमिकता के साथ किए जाने हेतु सभी पीठासीन अधिकारियों को निर्देशित करते हुए कहा कि किसी भी दशा में दायरा से कम निस्तारण नही होना चाहिए। उन्होने कहा कि धारा- 24, 41, 80 में विशेष रुप से ध्यान देने की जरुरत है। उन्होने खारिज दाखिल के अविवादित प्रकरणों को भी सनिश्चित कराए जाने के निर्देश दिए। राजस्व वसूली के तहत निर्गत आर0सी0 पर प्रभावी रुप से कार्यवाही सुनिश्चित करते हुए वसूली कार्य को कराए जाने का निर्देश दिया। उन्होने कहा कि किसी भी दशा में आर0सी0 की वसूली, बडे बकायेदारो की वसूली लम्बित नही होनी चाहिए इसके लिए अमीनो का प्रभावी रुप से अनुश्रवण की जाए तथा शिथिलता बरतने वाले के विरुद्ध कार्यवाही की जाए। समीक्षा के दौरान जिलाधिकारी ने कडे लहजे में निर्देश देते हुए कहा कि ग्राम सभा सहित अन्य सरकारी जमीनो पर अवैध कब्जा की स्थिति को कदापि क्षम्य नही किया जायेगा। संबंधित लेखपाल अपने क्षेत्रों में इस पर पैनी नजर रखें और जहां कही भी अतिक्रमण हो उस पर फौरी रुप से कार्यवाही सुनिश्चित कराएं। चकबन्दी विभाग के कार्यो की समीक्षा में जिलाधिकारी ने संबंधित अधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा कि वे अपने न्यायालयों के कार्य अवधियों का बढायें और लम्बित मामलो व वादों का निस्तारण सुनिश्चित कराए। बैठक में सीआरओ अमृत लाल बिन्द ने खसरा, खतौनी दुरुस्तीकरण कार्य सहित अन्य राजस्व कार्यो की प्रगति विवरण को रखा। इस दौरान एडीएम प्रशासन कुंवर पंकज, एडीएम एफआर नागेन्द्र सिंह, एसडीएम एवं तहसीलदार गण सहित अन्य संबंधित अधिकारी आदि जुडे रहे।