रेल सह सडक पुल का निर्माण जल्द पूरा होने की उम्मीद- पीके गुप्ता*
कृपाशंकर यादव
गाजीपुर। पूर्वोत्तर रेलवे गोरखपुर के मुख्य परियोजना निदेशक पुल एवं संरचना ( सी पी डी ) पीके गुप्ता शुक्रवार की देर शाम को घाट स्टेशन पहुंचे जहां उन्होंने कुछ देर विश्राम करने के बाद आर वी एन एल के परियोजना निदेशक सत्यम कुमार के साथ सडक मार्ग होते हुए गंगा नदी बन रहे रेल सह सडक पुल के अब तक हुए कार्यों एवं उसके डिजायन एवं उसकी मजबूती को लेकर प्रोजेक्टर के माध्यम से उन्हें प्रजेन्टेशन दिया गया ,इसके उपरान्त वह मातहतों संग सीधे निर्माण स्थल गंगा नदी पहुंचे जहां उन्होंने एक बिंदुओं स्पैन ,स्पाक्शन ज्वांइटरो,स्पारकल बेयरिंग, पैनल आदि के साथ चल रहे डैब स्लैब के ढलाई पर भी बारिकी से नजर लगाई ।इस दौरान उन्होंने अपरिहार्य परिस्थितियों में पुल की सुरक्षा को लेकर भी मंथन किया । निरीक्षण के दौरान पी के गुप्ता ने पुल के उपर रेन फोर्समेंट के कार्यों के अलावा पीलरों के पेडिस्टल पर लगाए जाने वाले फिक्स बेयरिंग, फ्री बेयरिंग, लागीं चूडनल तथा ट्रांसवर्क बेयरिंग जो पुल के निर्मित होने के बाद इसपर चलने वाली ट्रेन एवं मालवाहक वाहनों ने भार क्षमता के मूवमेंट को बनाए रखता है ,जिसके कारण स्ट्रक्चर ,पीलर आदि पूरी तरह से इन बेयरिंगों के चलते सुरक्षित रहते है ।इसको लेकर मुख्य परियोजना निदेशक पुल एवं संरचना ने मातहतों को किसी तरह की ढिलाई न करने की हिदायत दी ।इसके उपरान्त उन्होंने रेल सह सडक पुल के दोनों तरफ अपार्टमेन्ट के बारे में भी जानकारी ली ,तदुपरांत उनका काफिला सुखदेवपुर ,झिंगुरपट्टी ,चकफैज आदि जगहों पर पहुंचे जहां पीलर पर चल रहे गार्डर लांचिग के कामों का भी गहनतापूर्वक निरीक्षण किया।इस अवसर पर आर वी एन एल के परियोजना निदेशक सत्यम कुमार, एस पी सिंग्ला के प्रोजेक्ट मैनेजर अमनदीप गोयल, वरिष्ठ मंडल इंजिनियर द्वितीय वाराणसी मनोज कुमार सिंह, सिनियर सेक्सन इंजिनियर प्रदीप गाजीपुर ,एस पी सिंग्ला के डी पी एम सुनील सिंह , आर वी एन एल के असिस्टेंट मैनेजर रितेश कुमार ,वैभव कौशिक साइट इंजिनियर,राजेन्द्र ग्रेवाल ब्रिज एक्सपर्ट,अजय राय , अखिलेश यादव सेफ्टी इंजिनियर, सुप्रिया डे ,तथ विनय शर्मा आदि मौजूद रहे ।