सदस्य महिला आयोग उत्तर प्रदेश अर्चना चंद्रा ने किया बाढ़ क्षेत्रों का दौरा- चेहरी और पिपरा रसूलपुर के लोगों का जाना हाल अधिकारियों से बात कर बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों का सर्वे कराकर मदद का किया गया माँग
शैलेन्द्र यादव जिला संवाददाता महराजगंज महराजगंज - सदर तहसील क्षेत्र के अंतर्गत आने वाले ग्राम सभा जंगल दुधई उर्फ़ चेहरी तथा पिपरा रसूलपुर के विभिन्न टोलों का आज दिन में सदस्य महिला आयोग उत्तर प्रदेश अर्चना चंद्रा ने दौरा किया। आपको बता दें , आज दिन में करीब 11:00 बजे सदस्य महिला आयोग उत्तर प्रदेश अर्चना चंद्रा ने महराजगंज रोहिन नदी के पूर्वी किनारे पर स्थित गांव के विभिन्न टोलों पर जा जाकर लोगों का हाल जाना और उन्हें आश्वस्त किया कि जल्द ही शासन और प्रशासन से उनकी पीड़ा को बताकर हुए नुकसान की जांच करा कर आर्थिक मदद के साथ साथ सभी प्रकार की मदद दिलाने का प्रयास करूंगी । उन्होंने बताया कि हमारी सरकार विभिन्न प्रकार की योजनाओं से लोगों को लाभ पहुंचाने का काम कर रही है । और इस भीषण विभीषिका से निपटने के लिए विभाग और सरकार के बीच में आपसी सामंजस्य के साथ लोगों की मदद की जा रही है । और हमारी योगी मोदी सरकार प्रत्येक नागरिकों का ख्याल करते हुए आगे बढ़ने का काम कर रही है । चाहे वह कोई भी क्षेत्र हो हम अपनी उपस्थिति दर्ज करा रहे हैं । और इस क्षेत्र के लोग विगत कई वर्षों से बाढ़ जैसी प्राकृतिक आपदा से पीड़ित हैं जिनका विभाग से कह कर मैं जल्द ही कोई उचित समाधान निकालने का प्रयास करूंगी । उन्होंने यह भी कहा कि यह क्षेत्र चूँकि नदी के किनारे बसा है इसलिए विभाग को यहां अधिक ध्यान रखना होगा चाहे वह शिक्षा क्षेत्र हो या फिर स्वास्थ्य हो और फिर चाहे वह सुरक्षा का विषय हो सभी को ध्यान में रखते हुए हमारे सरकार की कल्याणकारी योजनाओं को जन-जन तक पहुंचाने में सहायक होना चाहिए। और बाढ़ में डूबी फसल का मवावजा दिलाने के लिए मौके से ही तहसीलदार और अन्य अधिकारियों से भी बात कीं और उन्होने त्वरित कार्यवाही करने का निर्देश भी दिया। सदस्य महिला आयोग उत्तर प्रदेश अर्चना चंद्रा के साथ बाढ़ से घिरे गाँव के में दौरा करने के दौरान दीपक कुमार,अशोक पाण्डेय,अतुल सिंह,अमित शुक्ला आदि गणमान्य लोगों के साथ साथ महिला थाने की पुलिस ,ग्राम सभा चेहरी के प्रधान रिषीदेव सहानी,पिपरा रसूल पुर प्रधान और सदर ब्लाक के प्रधान संघ अध्यक्ष रमेश सिंह हल्का लेखपाल और तमाम प्रधान के समर्थक और ग्रामीण लोग उपस्थित रहे।