भाजपा निषाद जातियों को एससी का आरक्षण नहीं दिया तो भाजपा से गठबंधन नहीं
सुभाष सिंह की रिपोर्ट
*9 से 31 अक्टूबर तक वीआईपी करेगी 12 रैलियां,ग़ाज़ीपुर में 19 अक्टूबर को वीआईपी रैली - लौटन राम निषाद* दिलदारनगर(ग़ाज़ीपुर)। उ.प्र. की 403 में 169 विधान सभा क्षेत्रों में निषाद(मल्लाह,केवट, बिन्द, कश्यप) वोट बैंक काफी निर्णायक है। भाजपा ने अपने वायदे के अनुसार निषाद समुदाय की मल्लाह, केवट, बिन्द, मांझी, धीवर, कहार, गोड़िया, रायकवार आदि जातियों को अनुसूचित जाति के आरक्षण का राजपत्र व शासनादेश जारी नहीं किया तो मिशन- 2022 में भाजपा से गठबंधन नहीं किया जायेगा। विकासशील इंसान पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष चौ.लौटन राम निषाद ने कहा कि मिशन- 2022 में निषाद जातियां निर्णायक की भूमिका निभायेंगी। उन्होंने कहा कि अब निषाद समाज भाजपा के वायदे में नहीं जायेगा। चुनाव से पूर्व अनुसूचित जाति आरक्षण शासनादेश व राजपत्र जारी करने के बाद ही भाजपा का खेवनहार बनने का निर्णय लेगा। भाजपा सरकार चाहे तो दो चार दिन में मझवार, तुरैहा, गोड़, बेलदार आदि को परिभाषित कर या पूर्व वर्ती सरकारों द्वारा भेजे गये प्रस्ताव को स्वीकार कर निषाद जातियों को अनुसूचित जाति का दर्जा दे सकती है। विकासशील इंसान पार्टी के संस्थापक मुकेश सहनी उ0प्र0 के 12 जनपदों में 9 से 31 अक्टूबर तक रैली करेंगे। जिसमें गाजीपुर, गोरखपुर, सुलतानपुर, मिर्जापुर, जौनपुर, वाराणसी, आगरा, आजमगढ़/अम्बेडकरनगर, बलिया,अयोध्या, प्रयागराज, मुजफ्फरनगर में आरक्षण अधिकार सामाजिक न्याय रैली को सम्बोधित करेंगे। 19 अक्टूबर को सन ऑफ मल्लाह मुकेश सहनी हेलीकॉप्टर द्वारा ग़ाज़ीपुर में आएंगे और रैली को सम्बोधित करेंगे। निषाद ने कहा कि विकासशील इंसान पार्टी का साफ तौर पर कहना है कि आरक्षण नहीं तो गठबंधन नहीं। पहले निषाद जातियों को अनुसूचित जाति का आरक्षण चाहिए। इसके बाद भाजपा के समर्थन व उससे गठबंधन पर विचार किया जायेगा।भाजपा ने कई बार वादा किया,पर अभी तक पूरा नहीं किया।अब भाजपा के किसी वादे पर विश्वास नहीं।राज्यमंत्री पद का लॉलीपॉप देने से बिन्द निषाद कश्यप भाजपा के झांसे में नहीं आएगा। निषाद ने बताया कि उ.प्र.में 12.91 प्रतिशत निषाद जातियां होने के बाद भी राजनैतिक दल इनके साथ दोयमदर्जे का बर्ताव करते आ रहे हैं। वर्तमान केन्द्र व प्रदेश सरकार में निषाद समाज को राज्यमंत्री तक ही सीमित रखा गया है। उन्होंने कहा कि भाजपा एक दो नहीं दर्जनों मंत्री या एम.एल.सी. बना दे, बिना आरक्षण के निषाद बिन्द समाज भाजपा के झांसे में नहीं जायेगा। गोरखपुर, गाजीपुर, जौनपुर, फतेहपुर, कानपुर, सिद्धार्थनगर, अयोध्या, अम्बेडकर नगर, चन्दौली, देवरिया, कुशीनगर, महाराजगंज, बलिया, वाराणसी, मिर्जापुर, भदोही, प्रयागराज, बांदा, आगरा, औरैया, फिरोजाबाद, मुजफ्फरनगर, सहारनपुर, शामली, बाराबंकी, बहराइच, पीलीभीत, शाहजहांपुर, लखीमपुर, बदायूँ, बरेली, उन्नाव, इटावा, मैनपुरी, फर्रुखाबाद, बस्ती की दो या दो से अधिक विधान सभा क्षेत्रों में निषाद समाज का वोट बैंक 40 हजार से अधिक है। 71 विधान सभा क्षेत्रों में तो 70 हजार से अधिक निषाद मतदाता है।आरक्षण नहीं तो भाजपा को समर्थन नहीं। प्रदेश अध्यक्ष के साथ प्रदेश महासचिव अनुराग सिंह यादव अन्नू,प्रदेश सचिव मनोज यादव,जिलाध्यक्ष अरबिंद कुमार बिन्द आदि ने गहमर,बारा, नसीरपुर,नगदिलपुर,रेवतीपुर, सायर, बरेजी,लहना,देवल,सुरहा,करमहरी,सबलपुर,देवरिया,जीवपुर,मतसा आदि गाँवों में जनसम्पर्क कर 19 अक्टूबर की रैली में भाग लेने की अपील की। *चौ.लौटनराम निषाद* प्रदेश अध्यक्ष-वीआईपी यूपी 8182822805/9415761409