पूर्वांचल एक्सप्रेसवे का लोकार्पण किया जाना प्रस्तावित
जिला प्रभारी राजीव कुमार पांडेय की रिपोर्ट
ग़ाज़ीपुर 04 सितम्बर 2021-    उत्तर प्रदेश सरकार की महत्वाकांक्षी परियोजना पूर्वांचल एक्सप्रेसवे का निर्माण कार्य लगभग पूर्ण होने को है शीघ्र ही इस एक्सप्रेसवे का लोकार्पण किया जाना प्रस्तावित है जिसके बाद एक्सप्रेसवे के मेन कैरिजवे को यातायात हेतु खोल दिया जाएगा।  इसी क्रम में आज दिनांक 04 सितम्बर 2021 को यूपीडा के मुख्य कार्यपालक अधिकारी श्री अवनीश कुमार अवस्थी  सबसे पहले  जनपद लखनऊ में पैकेज 01 से जनपद गाजीपुर के पैकेज  07 व 08 के निर्माण कार्यों का निरीक्षण कर अधिकारियों संग समीक्षा की।         उन्होने जनपद मऊ एवं गाजीपुर में पैकेज 07 व 08 के निर्माण कार्यों का स्थलीय निरीक्षण किया। पैकेज 07 व 08 के अधिकारियों को निर्देशित करते हुए कहा कि एक्सप्रेसवे के शेष बचे कार्य को शीघ्र ही पूर्ण कराया जाए। इसके अतिरिक्त सर्विस लेन के निर्माण कार्य में गुणवत्ता को ध्यान में रखकर निर्माण कार्य को तेजी से पूर्ण कराने के निर्देश भी दिए। स्थलीय निरीक्षण करने के उपरान्त श्री अवस्थी ने बताया कि पूर्वांचल एक्सप्रेसवे के निर्माण का 98 प्रतिशत से अधिक कार्य पूर्ण कर लिया गया है, शीघ्र ही निर्माण कार्य पूर्ण कर एक्सप्रेसवे के मेन कैरिजवे को यात्रियों के लिए खोल दिया जाएगा। अब प्रदेश के पूर्वी क्षेत्रों को देश की राजधानी दिल्ली तक सीधी कनेक्टिविटी प्राप्त हो जाएगी। उन्होने बताया कि जन सुविधाओ को ध्यान में रखते हुए पूर्वाचल एक्सप्रेस-वे पर वे-साइड अमेनिटीज व टॉयलेट ब्लाक्स बनाने की दिशा में तीव्रता से कार्य किया जा रहा है। इसके साथ ही 08 स्थानो पर पेट्रोल पंप को स्थापित करने के लिए टंेडर के माध्यम से कम्पनियों का चयन किया जा चुका है इन सभी पेट्रोल पंपो की स्थापना का कार्य तीव्र गति से कराया जा रहा है। इसके अतिरिक्त एक्सप्रेस-वे पर यातायात को कन्ट्रोल करने के लिए ए टी एम एस की व्यवस्था भी की जा रही है। एक्सप्रेस-वे पर टोल प्लाजा की स्थापना हेतु प्री बिड मीटिंग हो चुकी है तथा निर्माण कार्य प्रारम्भ है। इसके साथ ही एक्सप्रेस-वे पर यात्रियों की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए जानवरो को रोकने के लिए अभी से तैयारी की जा रही है।  समीक्षा बैठक में जिलाधिकारी एम पी सिंह, उप जिलाधिकारी कासिमाबाद, जखनिया, यूपीडा के अधिकारी एंव जिले के अन्य प्रशासनिक अधिकारी उपस्थित थे।