सोनभद्र में चिट फण्ड कंपनी खोलकर 13 करोड़ रु गबन करने का आरोपी ईओडब्ल्यू वाराणसी के द्वारा गिरफ्तार
कृपाशंकर यादव
गाजीपुर । वर्ष 2011 में जनपद सोनभद्र के रॉबर्ट्सगंज में कुछ शातिर लोगो ने इंडस वेयर इंडस्ट्रीज लिमिटेड नामक चिट-फंड कंपनी खोली। भोली-भाली जनता को प्रलोभनकारी योजनाओं में पैसे जमा कराकर,उनकी गाढ़ी कमाई लगभग 13 करोड़ रुपया लेकर पांच वर्ष बाद 2016 में चम्पत हो गई। इस सम्बंध में थाना रॉबर्ट्सगंज पर कंपनी के डायरेक्टर और संचालक आदि के विरुद्ध पंकज जायसवाल ने धोखाधड़ी,फर्जी दस्तावेजों को तैयारकर निवेशकों का धन गबन किये जाने आदि के सम्बंध में अभियोग पंजीकृत कराया गया था आज दिनांक 24.10.21 को सायंकाल इस प्रकरण के आरोपी रविन्द्र बहादुर यति पुत्र चंद्रभूषण यति निवासी-मलौरा थाना सादात जनपद गाजीपुर को उसके घर के पास से गिरफ्तार करने में आर्थिक अपराध अनुसंधान संगठन वाराणसी और सादात पुलिस की संयुक्त टीम के द्वारा सफलता प्राप्त किया गया है। गिरफ्तारी के लिए आर्थिक अपराध अनुसंधान संगठन वाराणसी के पुलिस अधीक्षक श्री डी प्रदीप कुमार के द्वारा निरीक्षक सुनील कुमार वर्मा,निरीक्षक विश्वजीत प्रताप सिंह,आरक्षी विनीत पांडे,रामाश्रय सिंह,विनोद यादव की एक टीम का गठन किया गया था। गिरफ्तार अभियुक्त को 406,419,420,467,468,471 आईपीसी मे सोनभद्र मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट न्यायालय में पेश किया जायेगा। न्यायालय के द्वारा अभियुक्त के विरुद्ध NBW एवं फरारी की उदघोषणा निर्गत थी।इसके बावजूद भी अभियुक्त न्यायालय में हाजिर नही हो रहा था और लगातार फरार चल रहा था। अभियुक्त कंपनी का सक्रिय एजेंट था और रॉबर्ट्सगंज के जिला अस्पताल के पास मेडिकल की दुकान चलाता था। गिरफ्तारी में ईओ डब्ल्यू के साथ सादात थाना के मुख्य आरक्षी रामराज,चीता द्वितीय के आरक्षी शिवकुमार पाल एवं संतोष कुमार भी शामिल रहे।