354 कार्यकत्रियों को मिला स्मार्टफोन
कमलाकर मिश्र की रिपोर्ट देवरिया -जिला कार्यक्रम अधिकारी कृष्णकांत राय ने बताय कि आज निर्मल मैरेज हाल में आंगनबाड़ी कार्यकत्रियों को स्मार्टफोन वितरण कार्यक्रम आयोजित किया गया। इस कार्यक्रम में भटनी, भाटपाररानी और बनकटा की 354 कार्यकत्रियों को स्मार्टफोन दिया गया। इसके अतिरिक्त जिलाधिकारी महोदय के निर्देशानुसार जनपद में एक नवीन प्रयोग के दृष्टिगत प्रभारी चिकित्साधिकारी, भाटपाररानी द्वारा तैयार किये गये सैम किट को भाटपाररानी विकास खण्ड के 10 सैम बच्चों को दिया गया। जिला कार्यक्रम अधिकारी ने बताया कि जिलाधिकारी महोदय द्वारा दिये गये निर्देश के क्रम में जनपद के समस्त सैम बच्चों को यह सैम किट तैयार कर बाल विकास विभाग एवं एन0एन0एम0 के माध्यम से वी0एच0एन0डी0 सत्रों में वितरित किया जायेगा। जिला पंचायत अध्यक्ष पं0 गिरीश चन्द्र त्रिपाठी, जय नाथ कुशवाहा गुड्डन सांसद प्रतिनिधि के द्वारा जिलाधिकारी द्वारा किये गये इस नवीन प्रयोग की प्रशंसा की गयी। उनके द्वारा जिलाधिकारी महोदय के कुपोषण के खिलाफ लड़ाई की सराहना की। बताया गया कि विभाग द्वारा आंगनबाड़ी कार्यकत्रियों को प्राप्त कराये गये मोबाइल से प्रत्येक सूचना का संचार आसान हो जायेगा। आंगनबाड़ी कार्यकत्रियों को यशोदा की संज्ञा देते हुए बताया गया कि आप अपने सर्वे के लाभार्थियों के लिये यशोदा जी की तरह उनकी पालनकर्ता हैं। कार्यक्रम में राघवेंद्र विक्रम सिंह, शम्स परवेज, जनप्रतिनिधि गण भाटपाररानी, सलेमपुर, गौरी बजार, शहर, पथरदेवा के सीडीपीओ व अन्य अधिकारीगण उपस्थित थे। बॉक्स-- क्या है सैम किट सैम किट में बच्चों को कुपोषण एवं रोगों से बचाने हेतु 6 तरह की दवाएं दी जाती हैं। इन दवाओं में अमोक्सीसिलिन टेबलेट (125 mg/tab) अथवा सिरप (125 mg/5ml), एल्बेंडाजोल (400 mg टेबलेट, फोलिक एसिड टेबलेट (5mg टेबलेट), विटामिन -ए सिरप, आयरन फोलिक एसिड सिरप, मल्टीविटामिन सिरप (बच्चों के लिये) आदि शामिल होती हैं। सैम किट बाल विकास विभाग एवं एनएनएम के माध्यम से वीएचएनडी सत्रों में व्यापक स्तर पर वितरित किया जाएगा।