रेस्कयू के दौरान पेड़ से टकराकर पलटी नाव में दो मासूम बच्चों का शव 38 घंटे बाद झाड़ियों में मिला
बिछिया बहराइच से अभयजीत प्रजापति की रिपोर्ट मासूमों की मौत से परिवारीजनों में मचा कोहराम बिछिया/बहराइच:- घाघरा के कहर सुजौली के दो दर्जन से अधिक गांव प्रभावित हुआ है । ग्राम पंचायत बड़खड़िया के मजरा नई बस्ती गांव में मंगलवार की शाम को अचनाक बाढ़ ने विक्राल रूप ले लिया था । इस दौरान प्रशासन की टीम ने स्थानीय लोगों की सहायता से बाढ़ में फंसे लोगों को नाव द्वारा रेस्क्यू निकालने के प्रयास में जुट गए । इस दौरान नाव से करीब एक दर्जन लोगों को रात 11,30 बजे नई बस्ती गांव से बड़खड़िया प्राथमिक विद्यालय पर पलायन के लिए लाया जा रहा था तभी नाव पेड़ से टकराकर पलट गई थी । जिसमें नाव सवार दो बच्चे बाढ़ में डूब गए । जिन्हें स्थानीय गोताखोरों के माध्यम से तलाश की जा रही थी इस दौरान 38 घंटे के बाद गुरुवार की दोपहर को दोनों मासूम बालक गुलशन 5 पुत्र ओमप्रकाश व अंकित 5 पुत्र दयानन्द का शव हादसे वाले स्थान के निकट झाड़ियों में फंसा मिला । ग्राम प्रधान बरखड़िया जय प्रकाश व ग्राम प्रधान प्रतिनिधि चहलवा प्रीतम निषाद ने स्थानीय गोताखोरों की सहायता से शव को बरामद करवाया । मौके पंहुचे एसआई सुभाष यादव ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया ।