मारपीट के मामले में 4 लोग को चार चार साल का सजा
गुड्डू यादव की रिपोर्ट।
गाज़ीपुर। न्यायाधीश SC/ST ACT चंद्रप्रकाश तिवारी की अदालत ने बुधवार को देर शाम मारपीट के 19 साल पुराने मामले में पिता पुत्र सहित 4 लोगों को 4 साल की सजा व 7-7 हजार रुपये के अर्थदंड से दंडित किया है अभियोजन के अनुसार सादात थाना गांव भीखमपुर निवासी शिवचन्द उर्फ सोचन ने थाने में तहरीर दिया कि दिनांक 30 जून 2002 को समय 11 बजे दिन में अपने खेत मे धन रोप रहे थे कि उसी समय उसी गांव के नारायन सिंह चौहान, सावर सिंह चौहान, व उनका लड़का गुददन सिंह चौहान व नारायन सिंह चौहान का लड़का बबलु सिंह चौहान आ कर जाती सूचक गली देते हुए लाठी डंडे फावड़े से मारने लगे जिससे वादी को चोट आई तहरीर के आधार पर पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर विवेचना सुरु की और विवेचना उपरान्त आरोपियों के विरुद्ध न्यायालय में आरोप पत्र प्रेषित किया दौरान विचारण अभियोजन की तरफ से विशेष लोक अभियोजक प्रदीप चतुर्वेदी ने कुल 6 गवाहों को पेश किया दोनो तरफ की बहस सुनने के बाद फैसले के समय आरोपी सावर सिंह चौहान व बबलु सिंह चौहान के उपस्थित न रहने से उनके विरुद्ध गैर जमानती वारंट व कुड़की का आदेश दिया है।