भाजपा विधायक इंद्र प्रताप तिवारी खब्बू समेत तीन लोगो को 5 साल का कैद
*रिपोर्ट - अमित सिंह अयोध्या*
*न्यायिक अभिरक्षा में भेजे गए जेल समर्थकों में रोष*
अयोध्या- जनपद के गोसाईगंज विधानसभा क्षेत्र से विधायक इंद्र प्रताप तिवारी खब्बू समेत तीन लोगों को यहां विशेष कोर्ट ने 5 साल के कठोर कारावास की सजा सुनाई गई है|सभी पर ₹13000 की राशि जुर्माने के तहत रखी गई है|यह सजा फर्जी मार्कशीट के तहत अगली कक्षा में प्रवेश लेन के मामले में सुनाई गई है| फैसला अपर जिला जज पूजा सिंह की अदालत से हुआ है|अपर जिला शासकीय अधिवक्ता अरुण प्रकाश तिवारी ने बताया कि घटना 1992 के पूर्व की थी|का.सु.साकेत महाविद्यालय के प्राचार्य प्रो.यदुवंश राम त्रिपाठी ने मामले की एफआईआर तीनों के खिलाफ लिखाई थी|जिसमें आरोप था इंद्र प्रताप तिवारी खब्बू ने बीएससी प्रथम वर्ष की मार्कशीट मे कूट रचना करके बीएससी द्वितीय वर्ष में प्रवेश लिया था|इसी तरह फूल चंद यादव ने बीएससी प्रथम वर्ष की मार्कशीट में कूट रचना करके बीएससी द्वितीय वर्ष में प्रवेश लिया था|कृपा निधान तिवारी ने b.a. तृतीय वर्ष की मार्कशीट में कूट रचना करके एलएलबी में प्रवेश लिया था| मामले के विवेचक ने धोखाधड़ी समेत अन्य धाराओं में आरोप पत्र कोर्ट में प्रस्तुत किया| निचली अदालत ने दो हजार अट्ठारह में मामले को विचारण के लिए सेशन को सुपुर्द किया था|इसी बीच वादी मुकदमा प्रोफेसर यदुवंश राम त्रिपाठी की मौत हो गई तथा अन्य गवाह ही मर गए|तब मामले में दूसरे गवाह प्रस्तुत किए गए जिन्होंने घटना का समर्थन किया सुनवाई के बाद दोषी पाते हुए कोर्ट ने तीनों को सजा सुनाई और सजा भुगतने के लिए तीनों को न्यायिक अभिरक्षा में जेल भेज दिया गया| वहीं दूसरी ओर भाजपा विधायक इंद्र प्रताप तिवारी के जेल भेजे जाने की खबर सोशल मीडिया के माध्यम से पूरे जनपद में फैल गई और उनके समर्थकों में रोष दिखाई पड़ रहा है|सोशल मीडिया पर लोग अपने अपने तरीके से खब्बू तिवारी को साजिश के तहत जेल भेजा जाना बता रहे हैं|समर्थकों को इस पूरे मामले में सुनाए गए फैसले को लेकर साजिश साफ दिखाई पड़ रही है| और उनका मानना है कि यह साजिश के तौर पर चुनाव ना लड़ने देने का रचा गया कुचक्र है|