मरदह कांड मे पुलिस ने 68 नामजद व 50 अज्ञात के खिलाफ संबधित धाराओं में मुकदमा पंजीकृत किया
जयंत यादव क्राइम रिपोर्टर सदर गाजीपुर
गाजीपुर।गुरूवार को हुए रामलीला मंचन के दौरान उपजे विवाद के बाद शुक्रवार को रामलीला कमेटी के अध्यक्ष व भाजपा मरदह मंडल के अध्यक्ष शशिप्रकाश पर हमला के बाद शनिवार को मरदह निवासी नीतीश उर्फ बंटी राजभर की पुलिस द्वारा पिटाई से मौत की अफवाह पर उग्र ग्रामीणों द्वारा थाना परिसर में पथराव कर थानाध्यक्ष, उप निरीक्षक सहित लगभग एक दर्जन पुलिस कर्मियों के घायल होने के बाद पुलिस ने 68 नामजद व 50 अज्ञात के खिलाफ संबधित धाराओं में मुकदमा पंजीकृत कर जबाबी कार्यवाही की तैयारी में है।भारी संख्या में पुलिस बल के साथ शनिवार की देर रात पुलिस ने मरदह कस्बे में दबिश दी।जिसमें कुल 21 लोगो को पुलिस द्वारा उठाए जाने की सूचना है।पुलिस द्वारा उठाए गए लोगो ने दबिश के दौरान पुलिस पर महिलाओं एवं बच्चो को पीटने का आरोप लगाया है।रात्रि में 21 लोगो की गिरफ्तारी के बाद सुभासपा,सपा,बसपा,कांग्रेस,भाजपा के नेताओ का इनके परिवारवालों से मिलने का क्रम जारी है। मरदह कस्बे में घटित घटना को लेकर तनाव बना हुआ है।पुलिस ने रविवार को पीएसी के जवानों के साथ पूरे कस्बे में शांति व्यवस्था कायम रखने के लिए फ्लैग मार्च किया तथा लोगों से अपील किया कि शांति व्यवस्था कायम रखने में शासन प्रशासन का सहयोग करें।मरदह थाने सहित कस्बे में जगह – जगह पर पीएससी सहित अतिरिक्त पुलिसबल की तैनाती की गयी है।इन सब वाकया को लेकर गांव सहित बाजार के दुकानदार आशंकित व काफी भयभीत दिख रहे हैं।रविवार को भी बाजार की छिटपुट दुकाने खुली रही लोग अपने जरूरत के समानों की खरीददारी करके अपने घरों के तरफ निकलते रहे।इस सबंध में सीओ कासीमाबाद विजय आनंद शाही ने बताया कि शांति व्यवस्था के लिए हम लोगों से संवाद बनाए हुए है लोगों से किसी भी प्रकार के अफवाह पर ध्यान न देने की अपील की गई है।