आंगनबाड़ी कार्यकत्रियों को सर्वे के लिए मिलेगा विशेष भत्ता-डीएम
कमलाकर मिश्न की रिपोर्ट
देवरिया जिलाधिकारी आशुतोष निरंजन की अध्यक्षता में जनपद स्तरीय अंतर विभागीय समिति की बैठक हुई। बैठक में संचारी रोगों की रोकथाम और मिशन दस्तक की सफलता के लिए आवश्यक दिशा निर्देश दिए गए। जिलाधिकारी ने बताया कि 18 अक्टूबर से 17 नवंबर तक जनपद में संचारी रोगों की रोकथाम के लिए विशेष अभियान चलाया जाएगा। इसके लिए जिला प्रशासन के सभी विभागों के समेकित प्रयास की आवश्यकता है। जिलाधिकारी ने पंचायती राज विभाग को उथले हैंडपंप को विशेष रंग द्वारा चिन्हित किए जाने और ग्रामीण क्षेत्रों में साफ सफाई हेतु विशेष अभियान चलाने का निर्देश दिया। नगर निकाय को नालियों की साफ-सफाई और फागिंग एवं एंटी लारवा के छिड़काव की कार्रवाई हेतु निर्देश दिए गए हैं। बेसिक शिक्षा अधिकारी को निर्देश देते हुए जिलाधिकारी ने कहा कि विद्यालय खुल गए हैं और छात्रों को प्रार्थना के समय इन रोगों से संबंधित जानकारी दी जाए, जिससे लोगों में जागरूकता आये। जिलाधिकारी ने मोहल्ला स्तर पर निगरानी समिति का गठन करके कोविड-19 संचारी रोग के प्रसार को रोकने को कहा पशु चिकित्सा अधिकारी को गांव में मौजूद सुअर बाड़े को बाहर करने हेतु आवश्यक निर्देश दिए। जन जागरूकता के माध्यम से क्षमता निर्माण पर विशेष बल दिया। उन्होंने कहा कि इस कार्य में लगने वाले श्रमबल जैसे आशा और आंगनबाड़ी कार्यकत्रियों को विशेष प्रशिक्षण दिया जाए। डेंगू के लारवा को नियंत्रित करने के लिए गम्बूजिया मछली के प्रयोग हेतु आवश्यक दिशा निर्देश भी दिया। जिलाधिकारी ने कहा कि मिशन दस्तक की सफलता के लिए 2 साल तक के बच्चों का नियमित टीकाकरण कराएं, घर के आस-पास साफ सफाई रखें, पूरी बांह वाली कमीज, पैंट और मोजे पहने, स्वच्छ पेयजल ही पीये, आसपास जलजमाव न होने दें, कुपोषित बच्चों के प्रति विशेष ध्यान रखें। समीक्षा बैठक में मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ आलोक कुमार पांडेय, एसीएमओ डॉ सुरेंद्र कुमार, यूनिसेफ के प्रतिनिधि डॉ गुलजार त्यागी, डीपीआरओ अविनाश कुमार सहित विभिन्न विभाग के अधिकारी मौजूद थे। बॉक्स संख्या 1 आशा कार्यकत्रियों को मिलेंगे सर्वे के लिए पैसे- जिलाधिकारी आशुतोष निरंजन ने बताया कि मलेरिया रोगी की स्लाइड अथवा आरडीटी किट से जांच करने पर आशा कार्यकर्ता को ₹15 का भुगतान किया जाएगा। यदि रोगी मलेरिया धनात्मक है तो RT पूर्ण करने तथा तीसरे, सातवें एवं 14वें दिन रोगी का फॉलोअप पूर्ण करने पर ₹75 का भुगतान किया जाएगा। इसी प्रकार डेंगू बुखार के रोगी में डेंगू कंफर्म होने पर ₹200 का भुगतान किया जाएगा और जपानीज एन्सेफेलाइटिस रोग कंफर्म होने पर ₹250 का भुगतान किया जाएगा। बॉक्स संख्या दो - जनपद को कालाजार मुक्त बनाने का है लक्ष्य जिलाधिकारी आशुतोष निरंजन ने बताया कि वर्तमान में जनपद के 6 ब्लॉक में कालाजार के कुछ मामले देखने को मिल रहे है। कालाजार रोग की एक वजह कच्चे मकान होते हैं। उन्होंने डीआरडीए से ऐसे सभी लोगों की सूची बनाने को कहा है जो कच्चे मकान में रह रहे हैं। उन्होंने कहा कि प्राथमिकता के आधार पर ऐसे लोगों को प्रधानमंत्री आवास योजना शहरी एवं ग्रामीण के तहत आवास उपलब्ध कराया जाएगा और जनपद को कालाजार मुक्त किया जाएगा।