सम्पूर्ण क्रान्ति के पुरोधा लोक नायक जयप्रकाश नारायण की पुण्यतिथि मनाई गई*
कृपाशंकर यादव
गाजीपुर । अखिल भारतीय कायस्थ महासभा गाजीपुर के तत्वाधान में जिलाध्यक्ष अरुण कुमार श्रीवास्तव की अध्यक्षता में सरजू पांडे पार्क में सम्पूर्ण क्रान्ति के पुरोधा लोक नायक जयप्रकाश नारायण जी की पुण्यतिथि पर माल्यार्पण कार्यक्रम एवं विचार गोष्ठी आयोजित हुई । गोष्ठी आरंभ होने के पूर्व महासभा के सभी कार्यकर्ताओं ने उनके चित्र पर माल्यार्पण कर श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए लोकतंत्र की रक्षा करने का संकल्प लिया । इस गोष्ठी में अपने विचार व्यक्त करते हुए जिलाध्यक्ष अरुण कुमार श्रीवास्तव ने कहा कि जय प्रकाश एक स्वतंत्रता सेनानी,समाज सेवी और आधुनिक भारत के अग्रणी विचारक थे । जय प्रकाश जी के राजनीतिक विचार आज भी प्रासंगिक हैं ।जय प्रकाश जी को लगभग 30वर्षों तक एक छत्र शासन करने वाली और निरंकुश होती जा रही कांग्रेस पार्टी की सरकार को समाप्त कर जनता पार्टी की सरकार बनाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाने के लिए याद किया जाता है । उन्होंने जय प्रकाश जी के राजनीतिक विचारों को साझा करते हुए कहा कि जय प्रकाश जी चाहते थे कि यदि हम सही अर्थों में जनता का राज स्थापित करना चाहते हैं तो इसके लिए हमें ,सम्पूर्ण क्रान्ति करके सामाजिक परिवर्तन करना पड़ेगा । जनता को राजनैतिक, सामाजिक, आर्थिक, सांस्कृतिक, आध्यात्मिक, बौद्धिक, शैक्षणिक स्वतंत्रता दिलानी होगी । हमें गरीबी, बेरोजगारी, शोषण को जड़ से समाप्त करना होगा । जब जनता खुद अपने कामों में सीधे भागीदार बनने लगेगी तभी लोकशाही को सच्चे अर्थों में जनता का राज कहा जा सकेगा । उनका सबसे महत्वपूर्ण राजनीतिक विचार सम्पूर्ण क्रान्ति कि विचार था ।वह सम्पूर्ण क्रान्ति करके शोषण और विषमता को जन्म देने वाली वर्तमान व्यवस्था को खत्म करके एक नये समाज की स्थापना करना चाहते थे । इस कार्यक्रम में मुख्य रूप से शिवशंकर सिन्हा, राजेंद्र अस्थाना, परमानन्द श्रीवास्तव, चन्द्र प्रकाश श्रीवास्तव,अमर सिंह राठौर,संदीप वर्मा, सुनील दत्त श्रीवास्तव, आनन्द श्रीवास्तव,,छन्नू यादव, नन्हें आदि उपस्थित थे । इस गोष्ठी की अध्यक्षता जिलाध्यक्ष अरुण कुमार श्रीवास्तव एवं संचालन जिला महामंत्री अजय कुमार श्रीवास्तव ने किया ।