गाजीपुर जिले की बरियाबाद बाजार में राष्ट्रीय लोक दल की हुई बैठक
हुलाशचंद्र की रिपोर्ट।
गाजीपुर जिले के बहरियाबाद बाजार में राष्ट्रीय लोक दल की बैठक हुई जिसमें जिलाध्यक्ष महेंद्र सिंह यादव के नेतृत्व में बैठक कर कार्यकर्ताओं को एक बार फिर से संगठित होकर पूर्वांचल में राष्ट्रीय लोकदल को मजबूत करने की बात कही गई अध्यक्ष जी ने यह भी कहा सबसे पहले जिले में जिला स्तर से लेकर विधानसभा स्तर तक और ब्लॉक स्तर तक पदाधिकारी नियुक्त किया जाए तब संगठन मजबूत होगा गाजीपुर जनपद में राष्ट्रीय लोकदल के पद पर जिला अध्यक्ष महेंद्र सिंह यादव के अनुमोदन से पदाधिकारियों को मनोनीत किया गया आशा एवं विश्वास है कि सभी चौधरी चरण सिंह एवं स्वर्गीय अजीत सिंह तथा रालोद के रीति नीति पर चल कर किसानों कामगारों दलितों पिछड़ों और प्रदेश के हर नागरिक की खुशहाली हेतु माननीय संजय को आदर्श नेता मानते हुए आप संगठन को चुस्त-दुरुस्त बनाने का प्रयास कर दल को मजबूती प्रदान करेंगे इसी कड़ी में स्थानीय बाजार में पदाधिकारियों का चयन किया गया जिसमें विधानसभा जखनियां अध्यक्ष पद पर मनोज यादव, व महासचिव सोनम पासवान, का चयन किया गया जिला कार्यकारिणी के कोटे से उपाध्यक्ष राम सूरत यादव, सचिव डॉ रामकुमार यादव व विकासखंड जखनिया अध्यक्ष मंजीत सिंह, महासचिव अवधेश कुमार, विकासखंड मनिहारी से अध्यक्ष अजय शर्मा महासचिव संजय चौहान वही विकासखंड सादात से अध्यक्ष संतोष यादव महासचिव पप्पू यादव, संरक्षक मंडल में जिला से नियुक्ति की गई हरिश्चंद्र सिंह एडवोकेट हरिनारायण यादव एडवोकेट विधानसभा संरक्षक श्री रामा शंकर यादव प्रवक्ता, श्री दशरथ यादव प्रधान ,व जिला मीडिया प्रभारी कमलेश यादव को नियुक्त किया गया सारे लोगों को एकत्रित कर किसानों कामगारों दलितों के हर नागरिक की खुशहाली हेतु लोगों की मजबूती से लड़ने व संगठन को मजबूत करने का मूल मंत्र बताया गया वही राम कुमार यादव ने कहा संगठन बनाना व पद पाने से संगठन मजबूत नहीं होता है उसके लिए चलना पड़ता है सारे लोगों को क्षेत्र में चलने के लिए संकल्प दिया गया और यहां तक कह दिया गया जखनिया से भी दावेदारी की जाएगी अगर टिकट मिला तो चुनाव लड़ा जाएगा और जीत कर दिखाया जाएगा चौधरी चरण सिंह किसानों के वह नेता थे जिसके साथ रहकर आज ही नेता बगये आप लोग भी मेहनत करेंगे एक दिन प्रदेश की सरकार बना कर दिखा दिया जाये गा राष्ट्रीय लोकदल बहुत ही पुरानी पार्टी है जिसका इतिहास है लोकदल का इतिहास शुरू होता 1974 से जब चौधरी चरण सिंह ने भारतीय लोक दल नाम से अपनी पार्टी बनाई थी। तब इसका चुनाव निशान 'हलधर किसान' था। ... लोकदल नाम कि ये पार्टी 1987 में चौधरी चरण सिंह के देहांत तक ठीक से चलती रही। एक समय देवी लाल, नीतीश कुमार, बीजू पटनायक, शरद यादव और मुलायम सिंह यादव भी इसी लोक दल पार्टी के नेता हुआ करते थे आज हमारी राष्ट्रीय लोक दल पार्टी समाजवादी पार्टी के गठबंधन में पूर्वांचल में चुनाव लड़ने के लिए तैयार हुई है और दमखम से चुनाव लड़ेंगे हम बोले जिला अध्यक्ष ।