प्राथमिकता के साथ शिक्षक एवं कर्मचारी कराएं वैक्सीनेशन-डीएम
कमलाकर मिश्न की रिपोर्ट
देवरिया - जिलाधिकारी आशुतोष निरंजन ने विकास भवन स्थित गांधी सभागार में बेसिक शिक्षा विभाग के कार्यों की मासिक समीक्षा की। समीक्षा बैठक के दौरान उन्होंने ऑपरेशन कायाकल्प के तहत हो रहे कार्यो को समयबद्धता एवं गुणवत्ता के साथ विद्यालयों को संतृप्त कराने का निर्देश दिया। जिलाधिकारी ने कहा कि सभी प्राथमिक विद्यालयों के बाउंड्री वाल निर्माण का कार्य शीघ्र ही पूरा कराया जाए साथ ही विद्यालयों में टाइल्स रैंप निर्माण इंटरलॉकिंग विद्युतीकरण आदि कार्यो को कराए जाने पर बल दिया। उन्होंने कहा कि सभी कार्यबिंदुओं की पूर्तिअनिवार्य रूप से समयबद्धता व गुणवत्ता के साथ पूर्ण होनी चाहिए। उन्होंने जिला स्तरीय एवं ब्लॉक स्तरीय टास्क फोर्स द्वारा किए गए विद्यालयों के निरीक्षण की जानकारी भी प्राप्त की तथा संबंधित अधिकारियों को विद्यालयों के निरीक्षण कार्य को जारी रखने का भी निर्देश दिया। जिलाधिकारी ने ड्रॉपआउट बच्चों को चिन्हित करते हुए उनको पुनः शिक्षा उपलब्ध कराने की दिशा में कार्य कराने का निर्देश बेसिक शिक्षा अधिकारी को दिया। उन्होंने कस्तूरबा गांधी आवासीय बालिका विद्यालयों में बन रहे सेफ्टी टैंक की स्थिति की समीक्षा की और उसको शीघ्र पूर्ण कराने के साथ ही कस्तूरबा गांधी विद्यालयों में चल रहे उच्चीकरण के कार्यों को भी निर्धारित समय सीमा के भीतर के सुनिश्चित कराने का निर्देश दिये। जिलाधिकारी ने सभी ब्लॉकों में बच्चों के लिए क्विज प्रतियोगिता आयोजित करने एवं उसमें अधिक से अधिक विद्यार्थियों को की सहभागिता सुनिश्चित कराने के लिए बेसिक शिक्षा अधिकारी को निर्देशित किया। जिलाधिकारी ने कहा कि शिक्षा विभाग के समस्त अधिकारियों, कर्मचारियों एवं शिक्षकों का प्राथमिकता पर लेते हुए, छूटे हुए लोगों का चिन्हीकरण करा कर उनका वैक्सीनेशन कराना भी सुनिश्चित करें। बैठक का संचालन बेसिक शिक्षा अधिकारी ने किया। इसमें एसडीएम/ज्वाइंट मजिस्ट्रेट सलेमपुर गुंजन द्विवेदी, डीडीओ श्रवण कुमार राय, डीपीआरओ अविनाश कुमार डीसी मनरेगा विजय शंकर राय, डीपीओ कृष्ण कान्त राय, खंड विकास अधिकारीगण, खंड शिक्षा अधिकारीगण एवं संबंधित विभागीय अधिकारी उपस्थित रहे।