आदर्श ग्राम बनाने में ग्रामीण करें सहयोग- न्यायाधीश शिवेन्द्र
कमलाकर मिश्र की रिपोर्ट
देवरिया- आजादी के अमृत महोत्सव के अवसर पर जिला विधिक सेवा प्राधिकरण देवरिया के तत्वावधान में उच्च प्राथमिक विद्यालय, पगरा उर्फ परसिया देवरिया में विधिक साक्षरता एवं सहायता कार्यक्रम का आयोजन किया गया। इस कार्यक्रम के मुख्य अतिथि सिविल जज (सीनियर डिवीजन)व प्रभारी जिला विधिक सेवा प्राधिकरण न्यायाधीश शिवेन्द्र कुमार मिश्र रहें। सिविल जज व प्रभारी जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के न्यायाधीश शिवेन्द्र कुमार मिश्र ने कार्यक्रम में उपस्थित समस्त आमजनमानस को विधिक जानकारियॉ देते हुये उनके मूल अधिकार एवं राष्ट्र के प्रति मूल कर्तव्यों से अवगत कराया। श्री मिश्र ने समस्त ग्रामीणों को अपने ग्राम को आदर्श ग्राम बनाने हेतु एक-दूसरे के सहयोग की अपील की तथा किसी भी विवाद को आपसी समझ से समाप्त करें। गॉवों, कस्बों एवं शहरों में आपसी भाईचारा एवं सौहार्द कायम रखें, मिल-जुल कर रहें, किसी भी तरह का विवाद न उत्पन्न करें और ना ही उत्पन्न होने दें। न्यायाधीश ने गरीब और असहाय लोगों के हित में बने कानूनों पर विस्तार से चर्चा की किया। श्री मिश्र ने मौके पर ही दिलफिकार, जीतन यादव, संपूर्णानंद त्रिपाठी, दशरथ, धीरेन्द्र, मिथिलेश, प्रद्युम्न, अब्बास अली, इन्दु देवी एवं सुगामी देवी की समस्या सुनकर संबंधित अधिकारी को समस्या के निस्तारण हेतु निर्देशित किया। इस दौरान उन्होंने कहा कि वृद्ध मॉ-बाप या घर के वैसे बुजुर्ग जो अपनी देखभाल स्वयं नहीं कर सकते, उनकी परवरिश का कानूनी जिम्मा उनके वारिस को हैं तथा इससे पल्ले झाड़ने वाले वारिस पर कार्रवाई का प्रावधान हैं। इसके लिए उन्होंने पीड़ित व्यक्तियों से जिला विधिक सेवा प्राधिकरण देवरिया के माध्यम से कानूनी सहायता प्राप्त करने का आह्वान किया तथा समाज में आई विसंगतियों एवं विचारों के असामंजस्य के समाप्ति हेतु वहॉ उपस्थित समस्त अधिकारियों एवं आमजनमानस को शपथ दिलाया।इस कार्यक्रम में मुख्य रूप से तहसीलदार सदर आनन्द कुमार नायक, राजस्व निरीक्षक संध्या राय, ग्राम पंचायत अधिकारी शिखा मल्ल, लेखपाल संजय राय, ग्राम प्रधान रामअशीष यादव, चन्द्रिका, दुर्गेश, प्रभुनाथ, शिवशंकर एवं सैकड़ों की संख्या में आमजनमानस उपस्थित रहें।