कायाकल्प मे शिथिलता को लेकर जिलाधिकारी सख्त
हुलाशचंद्र यादव जखनिया प्रभारी
गाजीपुर जिलाधिकारी एम पी सिंह की अध्यक्षता में समस्त विकास खण्डो में आपरेशन कायाकल्य योजनान्तर्गत विद्यालयो में कराये जा रहे कार्याे की समीक्षा सायं काल राइफल क्लब सभागार में सम्पन्न हुई। समीक्षा के दौरान विद्यालय के कक्षा कक्ष में टाईल्सीकरण की धीमी प्रगति पर नाराजगी व्यक्त करते हुए समस्त खण्ड विकास अधिकारियो को स्पष्टिकरण जारी करने का निर्देश दिया । जिलाधिकारी ने आपरेशन कायाकल्प के तहत कराये जा रहे सभी कार्य बिन्दुओं से विद्यालयों को संतृप्त किए जाने का निर्देश दिये। इसमें किसी भी स्तर पर कोई शिथिलता नही होनी चाहिए। उन्होंने कहा कि बेसिक शिक्षा विभाग की आपरेशन कायाकल्प योजना में जुड़े सभी अधिकारी कर्मचारी आपसी समन्वय के साथ बेहतर से बेहतर रूप दें और इसके लिए अपनी पूरी तन्मयता व सक्रियता दिखाएं। जिलाधिकारी ने समीक्षा के दौरान समस्त खंड शिक्षा अधिकारियो के कार्यों का जायजा लिया। इस दौरान उन्होंने निर्देश दिया कि संचालित कायाकल्प योजना में अन्य शेष सभी कार्यों को अनिवार्य रूप से पूर्ण कराना सुनिश्चित करे। इसमें किसी भी स्तर पर कोताही व शिथिलता क्षम्य नही होगी। जिलाधिकारी ने कायाकल्प के तहत स्कूलों में टाइल्स, रैंप निर्माण, इंटरलॉकिंग, विद्युतीकरण आदि कार्यों को कराए जाने पर बल दिया तथा सभी कार्य बिंदुओं की पूर्ति अनिवार्य रुप से समयबद्धता व गुणवत्ता के साथ पूर्ण कराने को कहा । उन्होने जिन-जिन विकास खण्डो में दिव्यांग शौचालय निर्माण अधूरे है उन ग्राम पंचायतो में एक साथ मजदूर लगाकर कार्यो में तेजी लाने का निर्देश दिये। इस बैठक में मुख्य विकास अधिकारी प्रकाश गुप्ता, पीडी बाल गोविन्द, डीडीओ श्रीभूषण कुमार,, समस्त खण्ड विकास अधिकारी, खंड शिक्षा अधिकारी एवं कर्मचारीगण उपस्थित थे।