राजस्व वसूली का काम प्राथमिकता से करें अधिकारी-डीएम
कमलाकर मिश्न की रिपोर्ट
देवरिया -जिलाधिकारी आशुतोष निरंजन ने गूगल मीट के माध्यम से कर एवं करेत्तर राजस्व वसूली के प्रगति की मासिक समीक्षा की। समीक्षा बैठक के दौरान उन्होंने राजस्व वसूली बढ़ाने के लिए अधिकारियों को आवश्यक निर्देश दिए। जिलाधिकारी ने कहा कि राजस्व वसूली के काम में किसी भी प्रकार की लापरवाही न बरती जाए , सभी अधिकारी राजस्व वसूली के काम को प्राथमिकता के आधार पर करें। विद्युत विभाग की समीक्षा करते हुए जिलाधिकारी ने विद्युत विभाग के अधिकारियों को विद्युत राजस्व वसूली में वृद्धि के लिए विशेष अभियान चलाने के साथ 5 किलोवाट से अधिक क्षमता वाले बड़े बकायेदारों की सूची तैयार कर वसूली कार्यवाही तेज करने का निर्देश दिया। खनन विभाग की धीमी राजस्व वसूली प्रगति पर जिलाधिकारी ने नाराजगी प्रकट की। उन्होंने खनन विभाग को आलोच्य माह में पिछले वर्ष की तुलना में प्रवर्तन के कार्य में तेजी लाने का निर्देश दिया। जिलाधिकारी ने परिवहन, लघु एवं मध्यम सिंचाई, मंडी समिति, बचत, श्रम विभाग, सड़क परिवहन निगम, पूर्ति विभाग, जिला पंचायत, भूमि विकास बैंक, नलकूप अनुरक्षण, कृषि विभाग, पशुपालन सहित विभिन्न विभागों के राजस्व वसूली की समीक्षा किए। उन्होंने सभी विभागों को निर्देश दिया कि निर्धारित लक्ष्य की पूर्ति के अनुरूप राजस्व वसूली के कार्यों को प्राथमिकता के तौर पर निर्धारित समय सीमा के अंदर पूर्ण कराना सुनिश्चित करें। बैठक में मुख्य राजस्व अधिकारी अमृतलाल बिंद, एडीएम (एफआर) नागेंद्र कुमार सिंह सहित विभिन्न विभागों के अधिकारी मौजूद रहे।