एनपीएस निजीकरण भारत छोड़ो पदयात्रा का आयोजन किया*
कमलेश कुमार की रिपोर्ट।
गाजीपुर-अटेवा पेंशन बचाओ मंच उत्तर प्रदेश के आवाहन पर विकास भवन ग़ाज़ीपुर से सरजू पांडेय पार्क तक अटेवा ग़ाज़ीपुर द्वारा एनपीएस निजीकरण भारत छोड़ो पदयात्रा का आयोजन किया गया। सरजू पांडेय पार्क पहुँचकर एसडीएम ग़ाज़ीपुर के माध्यम से मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ जी को पुरानी पेंशन बहाली तथा सरकारी नौकरियों में निजीकरण के विरोध में ज्ञापन दिया गया। इस एनपीएस निजीकरण भारत छोड़ो पदयात्र में ग़ाज़ीपुर के विभिन्न संगठन सम्मिलित हुए। जिला संयोजक सरफराज खान ने कहा कि माननीय लोग एक साथ चार- चार पुरानी पेंशन ले रहे हैं लेकिन कर्मचारियों को 35 साल की सेवा के बाद भी पुरानी पेंशन नहीं मिल रही है। कार्यक्रम संरक्षक डॉ. वीरेन्द्र यादव और कार्यक्रम प्रभारी शमशेर अली अंसारी ने बताया कि पुरानी पेंशन कर्मचारियों का संवैधानिक अधिकार है और सरकार पुरानी पेंशन को तत्काल बहाल नहीं करती है तो 21 नवंबर 2021 को ग़ाज़ीपुर जिले से हजारों की संख्या में शंखनाद रैली लखनऊ में शिक्षक और कर्मचारी पहुँचेंगे। इस कार्यक्रम में विभिन्न शिक्षक और कर्मचारी जैसे मण्डल अध्यक्ष मार्कण्डेय यादव, मानवेन्द्र सिंह, मनोज यादव, ओम प्रकाश यादव, मु. आलिम हुसैन, विश्वामित्र गुप्ता, अकबर अली अंसारी, सेराज अहमद, प्रवीण कुमार तिवारी, योगेंद्र पटेल, मोज़म्मिल अंसारी, सुरेन्द्र यादव, कन्हैया यादव, मुमताज अंसारी, राधेश्याम यादव, रोशन लाल, विजय यादव, हसीन अहमद, संतोष यादव, पीयूष कांत यादव, हुसैन अब्बास, प्रीतम सिंह, जनार्दन यादव, एस. एन. सिंह, विनय उपाध्याय, जगदीस हरिजन, के.एन. चौरसिया, सुरेश चौरसिया, अभिजीत, मनोज जी, नसरुद्दीन खाँ, राकेश रंजन, मौलाना हैदर खाँ, दिग्विजय सिंह, अरविन्द यादव, शाहीन फातिमा, प्रीति सिंह, संगीता सिंह, सुनीता, लक्ष्मी, रिंकू, रीता इत्यादि लोग उपस्थित थे।