पत्‍नी व पुत्र की निर्मम हत्‍या करने वाले हत्‍यारे को कोर्ट ने सुनाई आजीवन कारावास व लगाया एक लाख का जुर्माना
*जयंत यादव* *क्राइम रिपोर्टर गाजीपुर* अपर सत्र न्यायाधीश/ फ़ास्ट ट्रैक कोर्ट द्वितीय दुर्गेश की अदालत ने शुक्रवार को पत्नी व अपने बच्चे की निर्मम हत्यारे को आजीवन कारावास व 1लाख रुपये के अर्थदंड से दंडित किया है। सहायक जिला शासकीय अधिवक्‍ता अखिलेश सिंह ने बताया कि नन्दगंज थाना गांव टड़ियाव निवासी वादी हरिराम राजभर ने थाने में तहरीर दिया कि दिनांक 21 जून 2014 को उसका लड़का रामाश्रय उर्फ रामआसरे अपनी पत्नी मालती व अपने  पुत्र शनि को गड़ासे से रात्रि में सोते समय गाला काट कर हत्या कर दिया क्यो की रामाश्रय अपनी पत्नी पर शक किया करता था उसी कारण से उसने अपनी पत्नी व बच्चे की निर्मम हत्या कर दिया तहरीर के आधार पर थाना नन्दगंज में आरोपी के विरुद्ध मुकदमा दर्ज हुआ और पुलिस ने आरोपी को पकड़कर न्यायालय में पेश की जहा से आरोपी को जेल भेज दिया गया विवेचना उपरांत पुलिस ने आरोपी के विरुद्ध न्यायालय में आरोप पत्र प्रेषित किया दौरान विचारण अभियोजन की तरफ से सहायक शासकीय अधिवक्ता अखिलेश सिंह ने कुल 9 गवाहों को पेश किये सभी गवाहों ने अपना बयान न्यायालय में दर्ज कराया आज दोनो तरफ की बहस सुनने के बाद न्यायालय ने उपरोक्त फैसला सुनाया।