जिला अस्पताल में आजीवन कारावास की सजा में निरुद्ध बंदी की इलाज के दौरान मृत्यु
कमलाकर मिश्र की रिपोर्ट
देवरिया -जेल अधीक्षक ने बताया है कि जिला कारागार देवरिया में आजीवन कारावास की सजा में निरुद्ध बंदी सुशील शुक्ला पुत्र आत्माराम की जिला अस्पताल में इलाज के दौरान मृत्यु हो गई। इस बंदी की उम्र 66 वर्ष थी और वह मुजफ्फरनगर के कोतवाली थाना क्षेत्र के बहेड़ी का रहने वाला था। प्रशासनिक आधार पर उप कारागार देवबंद से 5/01/2017 को जिला कारागार देवरिया में उसका स्थानांतरण हुआ था। उक्त बंदी कैंसर, हृदय रोग व डायबिटीज रोग से पीड़ित था तथा उसका उपचार राम मनोहर लोहिया लखनऊ के चिकित्सकों के देखरेख में हो रहा था और वह जिला कारागार के चिकित्सालय में भर्ती था। आज प्रातः उसकी तबीयत गम्भीर हो गई, कारागार चिकित्सकों के परामर्श पर सुबह 5:48 पर उसे जिला चिकित्सालय देवरिया भेजा गया जहां उपचार के दौरान उसकी मृत्यु हो गई।