पीएम आवास में धोखाधड़ी पर ग्राम विकास अधिकारी सहित 06 अपात्र लाभार्थियों पर केस दर्ज
तहसील प्रभारी विक्रम सिंह
बहराइच*चित्तौरा ब्लॉक के अंतर्गत ग्राम पंचायत शेखवापुर में डीएम के निर्देश पर पांच अपात्र महिलाओं को प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना में धन आवंटन मामले में खंड विकास अधिकारी ने धोखाधड़ी का केस दर्ज कराया है। इसमें ग्राम विकास अधिकारी सहित छह लोगों को नामजद किया गया है। पुलिस ने रिपोर्ट दर्ज होने के बाद तहकीकात शुरू कर दी है। बता दें कि दरगाह थाने के अंतर्गत शेखवापुर गांव चित्तौरा ब्लॉक में पड़ता है। यहां के ग्राम विकास अधिकारी अभिषेक सिंह ने प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना 2021-22 में प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना में फाइल स्वीकृत कराकर धन उनके खाते में आवंटित करा दिया था। ग्रामीणों की ओर से आप पात्र महिलाओं को आवास आवंटन की शिकायत की गई थी। जिस परजिलाधिकारी डॉ दिनेश चन्द्र ने कड़ा रुख अख्तियार कर जांच कराई जांच में अभिषेक सिंह ग्राम विकास अधिकारी, सालिया पत्नी चिराग अली, साजिया पत्नी में मेराज, इशरत जहां पत्नी सलीम, उर्मिला पत्नी अमर सिंह व रेनू पत्नी अशोक कुमार सहित पांच अपात्र महिलाओं को आवास आवंटन की पुष्टि हुई। खंड विकास अधिकारी विनोद कुमार यादव ने ग्राम विकास अधिकारी अभिषेक सिंह को 25 सितंबर को इन अपात्र महिलाओं के विरुद्ध केस दर्ज कराए जाने का निर्देश दिया था। जिसका कोई असर नहीं हुआ ग्राम विकास अधिकारी ने दूसरी बार 7 अक्टूबर को निर्देश पर भी ध्यान नहीं दिया। तब खंड विकास अधिकारी ने स्वयं ही ग्राम विकास अधिकारी अभिषेक सिंह व पांच महिलाओं को नामजद करते हुए तहरीर दी। इस बावत एसएचओ मनोज कुमार सिंह ने बताया कि इन छह लोगों पर धोखाधड़ी की धाराओं में केस दर्ज किया गया है।