पुजारी पर चाकूओं से हमला, चोरी कर चोर फरार
कृपाशंकर यादव
गाजीपुर-जनपद के नंदगंज थानाक्षेत्र के बरहपुर गांव स्थित देवी मां शक्तिपीठ परिसर में शनिवार की भोर में चोरी की नीयत से घुसे दो चोरों ने पुजारी पर चाकुओं से हमला कर दिया। मामले की जानकारी होने पर इलाके में हड़कंप मच गया व लोग आक्रोशित हो गए। घटना में घायल साधु का प्राथमिक उपचार कराया गया।लोगों ने बताया की करंडा निवासी एक नशेड़ी से मंदिर प्रांगण में मादक पदार्थ का सेवन करने से मना करने को लेकर कुछ दिनों पूर्व पुजारी का नशेड़ी से विवाद हुआ था। इसकी जानकारी होने के बाद पुलिस इस एंगल को ध्यान में रखकर भी जांच में जुट गई है। मंदिर के पुजारी विश्वानंद स्वामी उर्फ लाल बाबा आयु 65वर्ष शुक्रवार की देर रात देव दीपावली पर दीपक जलाकर कीर्तन करने के उपरांत मंदिर परिसर में बने आवास में सो गए।पुजारी ने पुलिस को दिये अपने बयान मे बताया कि भोर मे करीब 3 बजे दो चोर स्वयं को होमगार्ड का जवान बताकर पुजारी को आवास से बाहर बुलाया जैसे ही पुजारी ने दरवाजा खोला, मुंह बांधे चोरों ने उनपर हमला कर दिया और उन्हें पकड़कर लकडी के चौकी से बांध दिया। इसके बाद उनसे मंदिर की चाभियाँ मांगने लगे। जिस पर उन्होंने कहा कि उनके पास चाभी नहीं है। चाभी न होने की बात सुनते ही चोर भड़क गये और उन पर ताबड़तोड़ चाकुओं से वार करना शुरू कर दिया।इसके बाद वहां रखे मोबाइल, 5 हजार रूपया व अन्य सामान लेकर मंदिर के चैनल का दोनों ताला तोड़ कर चलते बने।संयोग अच्छा था कि चोर मुख्य द्वार नहीं खोल सके और दानपात्र लिए बगैर फरार हो गए। अगली सुबह जिसने भी घटना के बारे मे सुनने के बाद पुजारी की हालत को देखा तो पूरे क्षेत्र में हड़कंप मच गया। मौके पर पुलिस भी पहुंची और जांच की। इसी तरह वहां से महज 100 मीटर दूर स्थित हनुमान गढ़ी पर वर्षों पूर्व भी एक साधु की हत्या हो चुकी है।