दर्जनों गांवों में इन दिनों खूनी साङ का आतंक*
जिला प्रभारी राजीव कुमार पांडेय की रिपोर्ट
भांवरकोल--स्थानीय विकास खंड क्षेत्र के दर्जनों गांवों में इन दिनों खूनी साङ का आतंक इस कदर छाया हुआ है कि उसके हमले से कब और कहां शिकार हो सकता है,कहा नही जा सकता। उसके हमले का शिकार आज सुबह कोई साढ़े सात बजे ग्राम पंचायत महेशपुर द्वितीय निवासी पच्चीस वर्षीय मन्नू पांडेय पुत्र कालिका पांडेय अपने मिर्ची/मटर के खेत में इस खूखांर सांड के हमले का बुरी तरह शिकार हों गये जब जब वे प्रतिदिन की तरह अपने खेत की फसल देखने गये तो देखा कि एक सांड फसल को चर रहा है।उसे हांकने गये तो सांड ने उन्हें उठाकर पटक कर मारना शुरू कर दिया।मन्नू के चिल्लाने से आसपास के लोग आये औरलाठी डंडे से सांड पर चारो ओर से प्रहार करने लगे जिससे घबरा कर वह भागने लगा।तब जाकर मन्नू पांडेय का प्राण बचा। समाचार से लिखने के समय सांड के प्रहार से बुरी तरह चोटिल मुन्नू को ईलाज के लिए अस्पताल ले भर्ती करा दिया गया था। लोगों ने बन विभाग से अविलंब पकड़ने की मांग की है।