डीएम ने पर्यटन विभाग के कार्यो का तय समयसीमा के अंदर पूर्ण कराने का दिये निर्देश
कमलाकर मिश्न की रिपोर्ट
देवरिया -जिलाधिकारी आशुतोष निरंजन ने गूगल मीट के माध्यम से पर्यटन विभाग के कार्यों की मासिक समीक्षा की। समीक्षा बैठक के दौरान जिलाधिकारी ने हनुमान मंदिर और चतुर्भुज मंदिर के सौन्दर्यीकरण को नवंबर माह में पूर्ण करने का निर्देश दिया। उन्होंने कहा कि पर्यटन से जुड़ी परियोजनाएं निर्धारित समय सीमा के भीतर हो। लापरवाही मिलने पर कड़ी कार्यवाही की जाएगी। मझौलीराज स्थित दीर्घेश्वरनाथ मंदिर के इंटरलॉकिंग का काम पूरा न होने पर उन्होंने नाराजगी व्यक्त की। यहां सोलर लाइट लगने का कार्य भी प्रस्तावित है, जिससे मंदिर आने वाले श्रद्धालुओं को रात को किसी तरह की समस्या न हो। जिलाधिकारी ने कहा कि मणिनाथ शिव स्थल धाम के पुनरोद्धार एवं सौंदर्यीकरण का कार्य शीघ्र पूरा करने को कहा। समीक्षा बैठक के दौरान बताया गया कि पकौली महाराज मंदिर के इंटरलॉकिंग का कार्य तीव्र गति से चल रहा है और मंदिर सौंदर्यीकरण को भी शीघ्र पूरा कर लिया जाएगा। जिलाधिकारी ने बघौचघाट में निर्माणाधीन धर्मशाला को शीघ्र पूर्ण करने का निर्देश दिया।समीक्षा बैठक के दौरान जिलाधिकारी ने जिले में पर्यटन से संबंधित सभी लंबित परियोजनाओं को समय से पूरा करने का निर्देश दिया है। उन्होंने कहा कि देवरिया जिले में पर्यटन को लेकर अपार संभावनाएं निहित हैं। पर्यटन के विकास से न केवल लोगों को रोजगार मिलेगा अपितु जिले की पहचान भी बनेगी। समीक्षा बैठक में जिला विकास अधिकारी श्रवण कुमार राय, क्षेत्रीय पर्यटन अधिकारी रविंद्र सहित पर्यटन विभाग के कई अधिकारी मौजूद थे।