एक्सप्रेसवे पर सुल्तानपुर के कुड़ेभार में वायुसेना के राफेल, मिराज, सुखोई सहित कई फाइटर विमान भी कलाबाजियां दिखाते हुए उतरेंगे
रिपोर्ट गुड्डू यादव
उत्तर प्रदेश में बनकर तैयार हुए देश के सबसे लंबे पूर्वांचल एक्सप्रेसवे का उद्घाटन मंगलवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी करेंगे। इस 341 किलोमीटर लंबे एक्सप्रेसवे पर फिलहाल यात्रा करने वालों से कोई शुल्क नहीं लिया जाएगा। उद्घाटन के मौके पर मंगलवार को प्रधानमंत्री के सामने एक्सप्रेसवे पर सुल्तानपुर के कुड़ेभार में वायुसेना के राफेल, मिराज, सुखोई सहित कई फाइटर विमान भी कलाबाजियां दिखाते हुए उतरेंगे। यूपी इंडस्ट्रियल ऐंड एक्सप्रेस वेज अथॉरिटी (यूपीडा) के मु य कार्यकारी अधिकारी अवनीश अवस्थी ने सोमवार को बताया कि पूर्वांचल एक्सप्रेसवे के उद्घाटन समारोह से पहले मु यमंत्री ने दो बार पूर्वांचल एक्सप्रेस का निरीक्षण किया है। उन्होंने कहा कि मु यमंत्री योगी आदित्यनाथ की मंशा समय से पहले कम दाम में एक्सप्रेस वे बनाने की थी, जो अब पूरी हुई है। उन्होंने कहा कि इस एक्सप्रेसवे पर सिर्फ दो टोल प्लाजा होंगे। एक्सप्रेसवे फिलहाल ट्रायल रन पर रहेगा और किसी तरह का टोल शुल्क नहीं लिया जाएगा। आने वाले कुछ महीनों में टोल शुल्क का फैसला किया जाएगा। अवस्थी ने कहा कि एक्सप्रेसवे पर इलेक्ट्रॉनिक वाहन नि:शुल्क चार्ज करने के लिए व्यवस्था की जा रही है। यूपीडा सीईओ ने बताया कि पूर्वांचल एक्सप्रेसवे से गाजीपुर से लखनऊ साढ़े तीन घंटे में पहुंच सकते हैं। इसे छह लेन का बनाया गया है जबकि इसके अगल-बगल आठ लेन की अतिरिक्त व्यवस्था की गई है। इस एक्सप्रेस वे की स्पीड 100 किलोमीटर निर्धारित की गई है और यहां 402 किलोमीटर लंबी सर्विस लेन है। एक्सप्रेसवे पर वाहनों को ईंधन भरने के लिए पेट्रोल पंपों को संचालित किया जा रहा है। इसमें रिलायंस व इंडियन आयल के पंप शामिल हैं। अवस्थी ने बताया कि एक्सप्रेसवे पर पुलिस पेट्रोलिंग के लिए 112 सेवा स्थापित कर दी गई है और पुलिस चौकी भी बनाई जाएंगी इसके अतिरिक्त सोमवार को एक नया आदेश मु यमंत्री ने किया कि इस में हेलीपैड भी बनाया जाएगा। इसमें हर प्रकार के जहाज उतारे जा सकते हैं। सोमवार को ही मु यमंत्री ने पूर्वांचल एक्सप्रेस वे हवाई सर्वेक्षण भी किया। एक्सप्रेस-वे निर्माण से प्रदेश का पूर्वी क्षेत्र प्रदेश की राजधानी एवं आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस-वे व यमुना एक्सप्रेस-वे के जरिये देश की राजधानी से जुड़ जाएगा। उन्होंने बताया कि पूर्वांचल एक्सप्रेस वे मऊ जिले के रानीपुर से भी जोड़ा जाएगा। इस एक्सप्रेस वे के दोनो ओर औद्योगिक कारीडोर बनाए जाएंगे। पूर्वांचल एक्सप्रेस वे को गोरखपुर लिकं एक्सप्रेस वे से भी जोड़ा जा रहा है।