*टेट परीक्षा में अव्यवस्था को लेकर समाजवादी पार्टी ने डीएम को सौंपा पत्रक‍, कहा- भाजपा युवाओं के भविष्य से कर रही है खिलवाड़*
जयंत यादव क्राइम रिपोर्टर गाजीपुर
राष्ट्रीय नेतृत्व के आह्वान पर समाजवादी पार्टी के चारों यूथ फ्रन्टल के कार्यकर्ताओं ने जिलाध्यक्ष रामधारी यादव के नेतृत्व में दिनांक 28नवम्बर को उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा टेट परीक्षा में भ्रष्टाचार और अव्यवस्था के कारण पेपर लीक और रद्द करने के विरोध में महामहिम राज्यपाल के नाम संबोधित ज्ञापन जिलाधिकारी गाजीपुर को सौंपा गया। टेट परीक्षा को उत्तर प्रदेश सरकार के द्वारा रद्द किए जाने के फैसले पर कार्यकर्ताओं ने आक्रोश व्यक्त करते हुए कि यह योगी सरकार की लापरवाही और नाकामी का प्रतीक है । उत्तर प्रदेश सरकार का यह फैसला अनगिनत युवाओं और युवतियों के सपनों और उनके भविष्य और उनकी मेहनत के साथ खिलवाड़ है। जिलाध्यक्ष रामधारी यादव ने कहा कि इस सरकार के राज में लगभग हर परीक्षाओं के पेपर लीक हो  रहे हैं। नौजवानों को सरकारी नौकरी से वंचित करने की यह योगी सरकार की साज़िश है । यह सरकार लगातार बेरोजगार नौजवानों के भविष्य के साथ खिलवाड़ कर रही है । यह सरकार नौजवानों को सरकारी नौकरी नहीं देना चाहती है । इस सरकार को नौजवानों के भविष्य की कोई चिंता नहीं है । भाजपा की केन्द्र की सरकार हो चाहे प्रदेश की हमेशा नौजवानों से छल कर रही है । इस परीक्षा के रद्द किए जाने के फैसले से नौजवानों में भारी आक्रोश है । नौजवानों का यह गुस्सा उत्तर प्रदेश सरकार को ले डूबेगा। इस अवसर पर मुख्य रूप से समाजवादी युवजन सभा के जिलाध्यक्ष सदानंद कन्नौजिया,  लोहिया वाहिनी के जिलाध्यक्षअमित ठाकुर, यूथ ब्रिगेड के जिलाध्यक्ष विनोद पाल, समाजवादी छात्रसभा के जिलाध्यक्ष अमित सिंह लालू, अशोक बिन्द, अरुण कुमार श्रीवास्तव, राहुल सिंह, रामलाल प्रजापति,रविशेखर विश्वकर्मा,मो.मुमताज अंसारी,मनीष यादव,जेपी यादव,मशीन अहमद,राजीव अहमद, दिनेश सिंह यादव, कमलेश यादव,इन्द्र प्रताप सिंह, आत्मा यादव, शिवशंकर यादव, कुशवाहा,वजीर भारती, जितेंद्र कुमार बिंद, मुहम्मद शरीफ , द्वारिका यादव,, आदित्य यादव, थे।