शीतलहर से पहले तैयार करें रैनबसेरे-डीएम
कमलाकर मिश्न की रिपोर्ट
देवरिया - जिलाधिकारी आशुतोष निरंजन ने गूगल मीट के माध्यम से नगर निकायों के कार्यों की समीक्षा की। समीक्षा बैठक के दौरान उन्होंने शीतलहर से पहले रेन बसेरे और गौ-आश्रय स्थलों की तैयारी मुकम्मल करने के निर्देश दिए। जिलाधिकारी ने कहा कि मौसम में बदलाव के साथ ठंड बढ़ रही है। शीत लहर शुरू होने से पहले ही बेघरों को राहत पहुंचाने के उद्देश्य से रैन बसेरों का निर्माण एवं अन्य जरूरी तैयारियां नगर निकायों को समयबद्ध तरीके से पूरा कर लेना चाहिए। ठंड से बचाव हेतु अलाव जलाने हेतु लकड़ी की खरीदारी एवं कंबल वितरण की व्यवस्था हेतु आवश्यक कार्यवाही करने का निर्देश दिया। इस काम में लापरवाही बरतने वाले नगर निकायों के विरुद्ध कड़ी कार्रवाई करने की चेतावनी दी। उन्होंने कहा कि नगर निकाय क्षेत्र में संचालित होने वाले समस्त गौ-आश्रय स्थलों में भी गौ-वंशीय पशुओं को ठंड से समस्या न हो इसकी समुचित व्यवस्था भी नगर निकायों को करनी होगी। जिलाधिकारी ने आगामी विधानसभा चुनाव के दृष्टिगत नगर निकायों के अंतर्गत आने वाले सभी मतदान केंद्रों पर हैंडपंप और शौचालय दुरुस्त रखने के दिये निर्देश अधिशासी अधिकारियों को दिए। जिलाधिकारी ने कम राजस्व वसूली पर नाराजगी प्रकट की और भटनी, लार तथा मझौलीराज नगर पंचायतों को नए सिरे से असेसमेंट कर लक्ष्य निर्धारित करने का निर्देश दिया। मुख्यमंत्री नारी सम्मान योजना के संदर्भ में उन्होंने कहा कि कोविड -19 प्रकोप के दौरान जिन-जिन महिलाओं के पति की मृत्यु हुई है, वे सभी इस योजना की लाभार्थी मानी जाएंगी। सभी निकाय ऐसे लोगों को चिन्हित करते हुए योजना का लाभ योग्य लाभार्थियों को उपलब्ध कराएं। समीक्षा बैठक के दौरान एडीएम (प्रशासन) कुँवर पंकज, एसडीएम संजीव उपाध्याय , नगर पालिका ईओ रोहित सिंह, अमिताभ मणि त्रिपाठी, अंकिता, ओम प्रकाश पटेल सहित विभिन्न अधिकारी मौजूद थे।