क्या कुसूर था विधायक जी समेत 7 लोगो का, क्या कोई राजनीति न करे - अलका राय*
कमलेश कुमार की रिपोर्ट।
ग़ाजीपुर । मोबम्मदाबाद विधायक अलका राय का अंसारी बंधुओ पर तीखा बयान। इस दौरान विधायक अलका राय ने कहा कि वह मेरे पति थे लेकिन मैं हर महिला के लिए कहूंगी विधायक जी के साथ जो कांड हुआ था। वह सबसे घातक काम हुआ था आप लोग जानते हैं कि उस दौरान किसकी सरकार रही है और किस तरह से हत्या की गई है। उन्होंने कहा कि जो धरती पर आया है उसको एक दिन जाना है वह एक अलग बात है । लेकिन पीछे से कोई हत्या कर दे, तो ये बहुत खराब बात है राजनीति करना एक अलग बात है । लेकिन विधायक कृष्णानंद राय के साथ की हत्या 7 लोगों की हत्या कर दी गई थी। बताइए क्या कसूर था विधायक जी का और जो साथ में मरे हैं उन लोगों का। ये सब सोचकर बहुत कष्ट होता है । कोई भी व्यक्ति राजनीति कर सकता है कोई भी चुनाव लड़ सकता है यह पारिवारिक चीज नहीं है। भाजपा परिवार वाद की पार्टी नहीं है सब के प्रति समर्पित पार्टी है । केएन राय हत्याकांड में अब तक कोई न्याय नहीं मिल पाने के सवाल पर कहा कि कोर्ट का मामला है कोर्ट में गवाही की बात है । गवाहों को डरा धमका कर वो अपने पाले में करा लिया, पैसा देकर लोगों को खरीद लिए, ठीक है बिक गए । लेकिन हमको लगता है कि भगवान है और हम को न्याय मिलना ही मिलना है और दूसरा न्याय जनता के बीच में है । आज मैं कह सकती हूं कि मोहम्मदाबाद की जनता है यह भी एक भगवान है। क्योंकि इन लोगों के सहयोग ने मुझे विधायक बनाया। आज अंसारी बंधुओं के खिलाफ मैं बोल सकती हूं उन अपराधियों के खिलाफ किसी के पास बोलने का ताकत नहीं है सब लोग डरते हैं। इन लोगों की वजह से मोहम्मदाबाद में भय व्याप्त था । मैं अकेले विधायक अलका राय उसके खिलाफ बोलती रहूंगी जब तक मेरे शरीर में जान रहेगी । आज भाजपा की सरकार है योगी जी की देन है कि उन लोगों के खिलाफ भी कार्रवाई हुआ है। नहीं तो इससे पहले कोई कार्रवाई उन लोगों के खिलाफ नहीं हुई थी । उस दौरान मोहम्मदाबाद में ऐसा माहौल था कि कोई भी घर से निकलता था और रात के अंधेरे में लोग भयभीत रहते थे कि मेरा बेटा, मेरा परिवार घर आएगा कि नहीं आएगा। आज योगी जी की सरकार है तो लोग कभी भी किसी भी वक्त अपने घर आ जा रहे हैं । अंसारी बंधुओं पर बोलते हुए कहा वह लोग हमेशा सत्ता में रहना चाहते हैं और सत्ताधारी दलों के कंधे पर बंदूक रखकर अपना काम करना चाहते हैं । मुख्तार अंसारी, विधायक कृष्णानंद राय की हत्या कराया मऊ में जो दंगा हुआ उसने कराया और उस दौरान खुलेआम जिप्सी पर चढ़कर यादव भाइयों की हत्या करवाया । यादव भाई भी देखे होंगे, पूरा प्रदेश देखा होगा । उस घटना को लेकिन उसके प्रति उस दौरान कोई कार्यवाही नहीं हुई । लेकिन एक ऐसा ही मुकदमा था विधायक कृष्णानंद राय का । जिसकी वजह से उनके ऊपर मुकदमा दर्ज हुआ । इसमें बीजेपी के लोगों और सरकार ने मेरा खूब सहयोग किया।